पंचायत समिति भीनमाल को मिले दो लाख, आखिर क्यों, पढि़ए पूरी खबर....

जागरूक टाइम्स 371 Jul 11, 2018

जालोर में बुधवार को एक कार्यक्रम के दौरान भीनमाल पंचायत समिति को दो लाख रुपए का चैक प्रदान किया गया। साथ ही आठ ग्राम पंचायत को एक-एक लाख रुपए के चैक प्रदान किए गए। गौरतलब है कि परिवार कल्याण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को चैक व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

पंचायत समिति भीनमाल को 2 लाख रुपये का चैक, ग्राम पंचायत झाब, साविधर, नरता, कागमाला, सिवणा, बाकरा, भोरडा, बावरला के सरपंच को एक-एक लाख का चैक व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस मौके पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सायला तथा पीएचसी बाकरागांव को 50-50 हजार रुपए चैक व प्रशस्त्रि पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

वहीं सांगाना में कार्यरत एएनएम कौशल्या तथा सब सेंटर रोपसी की एएनएम गीता देवी को क्रमश: 3100 व 2100 रूपये का चैक व प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। समारोह में बंशीलाल खिलाडी एंड पार्टी नागौर के कलाकारों ने सांस्कृतिक प्रस्तुति देकर छोटे परिवार को महत्व बताया।

सुख और समृद्धि के लिए जनसंख्या पर नियंत्रण जरूरी - मेघवाल
जिलेभर में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से बुधवार को विश्व जनसंख्या दिवस जिला व ब्लॉक स्तर पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जालोर शहर में नगर परिषद परिसर स्थित वीरम मंच पर विधायक अमृता मेघवाल के मुख्य आतिथ्य में जिला स्तरीय परिवार विकास मेले व कार्यक्रम हुआ। समारोह की अध्यक्षता जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पूर्णकालिक सचिव पवन कुमार काला थे।

विशिष्ट अतिथ अतिरिक्त जिला कलक्टर नरेश बुनकर, नगर परिषद उप सभापति मंजू सोलंकी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बीएल बिश्नोई, अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डीसी पुन्सल, पीएमओ डॉ एसपी शर्मा थे। समारोह में वक्ताओं ने दिवस की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए जनसंख्या नियंत्रण पर जोर देते हुए छोटे परिवार की अवधारणा को अपनाने की अपील की।

मुख्य अतिथि विधायक अमृता मेघवाल ने शिक्षा का महत्व बताते हुए कहा कि छोटे परिवार होने पर बच्चों की बेहतर तरीके से परविश होती है और उनको आगे बढऩे का भी मौका मिलता है। उन्होंने बेटा और बेटियों में अंतर नहीं करने की अपील करते हुए कहा कि वर्तमान में बेटियां देश और राज्य का नाम रोशन कर रही हैं। उन्होंने बेटे की चाहत में अनावश्यक परिवार को नहीं बढ़ाने और बेटियों को आगे बढने के अवसर देने पर जोर दिया।

जनसंख्या नियंत्रण से ही रहेगा संतुलन
समारोह के अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पूर्णकालिक सचिव पवन कुमार काला ने कहा कि पृथ्वी और प्रकृति के बीच संतुलन बेहद जरूरी है और यह जनसंख्या पर नियंत्रण रखकर ही किया जा सकता है। उन्होंने विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डीसी पुन्सल ने दिवस की उपयोगिता के महत्व पर प्रकाश डालते हुए विभाग की ओर से उपलब्ध करवाई जा रही सेवाओं की जानकारी दी।

उन्होंने पुरूषों से परिवार नियोजन में भागीदारी निभाने का आह्वान करते कहा विभाग की ओर से प्रत्येक माह को पुरूष नसबंदीवार के रूप में मनाया जाता हैं। इस दिन चयनित चिकित्सा संस्थानों पर शिविर लगाए जाते हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बीएल बिश्नोई ने अतिथियों का आभार जताते हुए जनसंख्या नियंत्रण के लिए आगे आकर कार्य करने की जरूरत बताई।

समारोह में उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसके चौहान, बीसीएमओ जालोर डॉ रतनलाल मेघवाल, जिला कार्यक्रम प्रबंधक चरणसिंह, आशा सहयोगिनियां, नगर परिषद के अधिकारी, कार्मिक सहित कई लोग मौजूद थे।

Leave a comment