जयपुर : नये डीजीपी ने कार्यभार सम्भाला

जागरूक टाइम्स 305 Dec 22, 2018

जयपुर (ईएमएस)। भारतीय पुलिस सेवा के वर्ष 1983 बैच के वरिष्ठ अधिकारी श्री कपिल गर्ग ने शुक्रवार को प्रात: पुलिस मुख्यालय में महानिदेषक पुलिस का पद भार सम्भाल लिया। निवर्तमान महानिदेषक पुलिस श्री ओ.पी. गल्होत्रा ने उन्हें कार्य भार सौंपा। श्री गर्ग ने पुलिस मुख्यालय में आयोजित सलामी गार्ड का निरीक्षण किया एवं सलामी ली। उन्होंने कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व अपनी बड़ी बहन श्रीमती उषा जैन एवं जीजाजी श्री पी.के.जैन के चरण स्पर्ष कर आर्षीवाद लिया।

इस अवसर पर उनकी धर्मपत्नि श्रीमती रचना गर्ग तथा उनके परिजन भी मौजूद थे। महानिदेषक ने इस अवसर पर पुलिस मुख्यालय में मौजूद कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राजस्थान पुलिस को श्रेष्ठ बनाने में हम सब की भूमिका है। हम सब मिलकर विभाग को ऊंचाईयों पर ले जा सकते है। इसके लिए हर व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करने में सर्वश्रेष्ठ देना होगा। उन्होंने आम नागरिकों में विष्वास अर्जित करने पर बल देते हुए कहा कि पुलिस को पब्लिक फेंडली बनाने में विषेष ध्यान दिया जाएगा। श्री गर्ग ने बताया कि राजस्थान पुलिस की गौरवषाली परम्परा को आगे बढ़ाते हुए पुलिस को तकनीकी रूप से सुदृढ़ किया जाएगा।


साथ ही साइबर क्राईम की रोकथाम पर विषेष जोर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि राजस्थान पुलिस के ध्येय वाक्य ”आमजन में विष्वास, अपराधियों में भय“ के अनुरूप अपराधियों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि महिलाओं और कमजोर वर्गों के प्रति अपराधों की रोकथाम पर भी विषेष ध्यान दिया जाएगा। उन्होंने मॉबलिचिंग जैसी घटनाओं को घृणित अपराध बताते हुए कहा कि कानून हाथ में लेने वालों के विरूद्ध नियामानुसार सख्त कार्यवाही की जाएगी। निवर्तमान महानिदेषक श्री ओ पी गल्होत्रा को महानिदेषक गृहरक्षा के पद पर स्थानान्तरण होने पर पुलिस मुख्यालय से विदाई दी गई।

इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री शैलेन्द्र अग्रवाल, अतिरिक्त माहानिदेषक भूपेन्द्र यादव, राजीव दासोत, मोहनलाल लाठर, बी.एल. सोनी, भूपेन्द्र दक, उमेष मिश्रा, श्रीमती नीना सिंह, डीसी जैन, संजय अग्रवाल, जगांश्रीनिवास ,अमृत कलष, ए. पोन्नूचामी गोविन्द गुप्ता सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे। महानिदेषक पुलिस ने पुलिस मुख्यालय मे वरिष्ठ पुलिस अधिकारियो की बैठक ली एवं आवष्यक दिषा निर्देष दिये ।

Leave a comment