कांग्रेस के परिवारवाद और जातिवाद के खिलाफ होगा इस बार का चुनाव : अमित शाह

जागरूक टाइम्स 302 Nov 22, 2018

जयपुर । राजस्थान के चुनावी रण में कूद चुके भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मानसरोवर स्थित टैगोर स्कूल में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि 2018 के विधानसभा और 2019 के लोकसभा चुनाव कांग्रेस के परिवारवाद और जातिवाद के खिलाफ होगा। परिवारवाद की निंदा करते हुए शाह ने कहा कि 'कांग्रेस वंशवाद को बढ़ावा देता है और इसका सबसे बड़ा उदाहरण है कि कांग्रेस का एक प्रत्याशी अपनी सभा में भारत माता की जय के नारे रुकवा देता है और सोनिया गांधी जिंदाबाद के नारे लगवाता है।

जो लोग भारत माता की जय बोलने में शर्मात हैं उन्हें देश का अन्न खाने में भी शर्म आनी चाहिए।
मानसरोवर स्थित टैगोर स्कूल में आयोजित इस कार्यक्रम में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ ही मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया, प्रकाश जावड़ेकर, अविनाश खन्ना, मुरलीधर राव, मदनलाल सैनी सहित संगठन महामंत्री चंद्रशेखर भी मौजूद थे। इस दौरान युवाओं ने भाजपा अध्यक्ष से वंशवाद, जीएसटी, राममंदिर और वन रैंक वन पैंशन को लेकर कई सवाल किए। जिसका जवाब देते हुए शाह ने परिवारवाद और जातिवाद के मुद्दे को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा। वहीं जब कार्यक्रम में मौजूद युवाओं ने भाजपा अध्यक्ष से राममंदिर पर सवाल किया तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि 'भाजपा की पूरी तरह से कोशिश कर रही है कि जहां राम लला विराजमान हैं राम मंदिर वहीं बने, लेकिन केस अभी सुप्रीम कोर्ट में लंबित है।

वहीं कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने भी केस की सुनवाई 2019 के बाद करने की बात कही है, लेकिन हमें उम्मीद है कि 2019 में जनवरी के बाद ही केस शुरू हो जाएगा और इस पर फैसला भी आएगी और जहां रामलला विराजमान हैं, वहीं राम मंदिर बनेगा।

भाजपा अध्यक्ष के कार्यक्रम का सीधा प्रसारण 200 विधानसभा क्षेत्रों में लाइव प्रसारण किया गया। कार्यक्रम में युवाओं के सवालों का जवाब देने के साथ ही भाजपा अध्यक्ष ने अशोक गहलोत और राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट पर भी जमकर निशाना साधा। वहीं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी कांग्रेस पर टिप्पणी करते हुए कहा कि 'पहले मीडिया कह रहा था कि राजस्थान में भाजपा गई, लेकिन अब कह रहे हैं कि भाजपा फाइट में आ गई है और अगर भाजपा थोड़ी सी भी कोशिश करेगी तो सरकार बन जाएगी।

Leave a comment