बीएसएफ जवान चाचा को भतीजे ने उतारा मौत के घाट

जागरूक टाइम्स 323 Sep 14, 2019

अजमेर (ईएमएस)। राजस्थान के अजमेर में पुलिस ने बीएसएफ जवान की हत्या के मामले को सुलझा लिया है। दरअसल, जवान का भतीजा ही हत्या का आरोपी निकला। बताया गया ‎कि चाचा अपने भजीते की पत्नी से बात करता था। इस बात से नाराज भतीजे ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर चाचा को मौत के घाट उतार दिया। बताय गया ‎कि बीएसएफ जवान प्रधान गुर्जर छुट्टी पर गांव आया था, इसी दौरान भतीजे जीतराम ने उसकी हत्या कर दी। उसने पुलिस की पूछताछ में बताया है कि उसका चाचा उसकी पत्नी से अक्सर मोबाइल पर बात करता था और उसकी शिकायत भी पत्नी से करते रहता था।

जब वह छुट्टी पर आये भतीजे ने चाचा को पुष्कर और अजमेर घूमाने की योजना बनाई। चाचा की बोलेरो कार में अपने दो दोस्तों रामअवतार कसाना और हनुमान खटाना को साथ लेकर वह पहले अजमेर दरगाह पहुंचा और वहां जियारत की। इसके बाद पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर में पूजा अर्चना की और अंत में रात को अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर चाचा का गला घोट दिया। गला घोटने के बाद चाचा के चेहरे को पूरी तरह से कुचलकर क्षत-विक्षत कर दिया। उसके बाद चाचा को उसकी गाड़ी समेत तिलोनिया गांव में गड्ढे में ढकेल दिया।

इसके बाद जब सुबह गांव वालों ने कीचड़ से गाड़ी को निकाला तो उसमें लाश मिली। जांच के बाद एडिशनल एसपी किशन सिंह भाटी ने बताया कि पुलिस ने अजमेर और पुष्कर में लगे सीसीटीवी और भतीजे के कॉल डिटेल के आधार पर तीनों ही आरोपियों को पकड़ा है। पुलिस ने बताया कि चाचा और भतीजे के परिवार में पुरानी दुश्मनी थी। दोनों को परिवार एक दूसरे से बात नहीं करता था। केवल यही दोनों आपस में बात करते थे।


Leave a comment