मैं भी भगवान श्रीराम का वंशज, कोर्ट मांगेगा तो दूंगा सबूत : खाचरियावास

जागरूक टाइम्स 174 Aug 14, 2019

जयपुर (ईएमएस)। राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने मंगलवार को खुद को श्रीराम का वंशज बताया। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद पर चल रही सुनवाई के दौरान 9 अगस्त को कोर्ट की ओर से रामलला के वकील से पूछे गए एक सवाल के बाद से ही भगवान राम के वंशज होने के दावे सामने आ रहे हैं। इस मामले में अभी तक जयपुर के पूर्व राजपरिवार और उदयपुर के पूर्व राजपरिवार की ओर से खुद को भगवान राम का वंशज बताने की खबर भी सामने आ चुकी है।

खुद को भगवान राम के बड़े बेटे कुश का वंशज बताते हुए खाचरियावास ने कहा कि कुश के नाम पर ही कच्छवाहा/कुशवाहा नाम पड़ा है। यदि कोर्ट हमसे पूछेगा तो हम इसे लेकर सबूत भी पेश करेंगे। बता दें कि सुनवाई के दौरान कोर्ट ने पूछा था कि क्या भगवान राम का कोई वंशज अयोध्या या दुनिया में है? इस पर वकील ने कहा था- हमें जानकारी नहीं है। जिसके बाद जयपुर के पूर्व राजपरिवार का कहा था कि वह श्रीराम के वंशज हैं और इसके सबूत इतिहास के पन्नों में दर्ज हैं।

वहीं, जयपुर के पूर्व राजपरिवार की सदस्य एवं बीजेपी सांसद दीया कुमारी ने खुद को श्रीराम का वंशजबताते हुए इसके पक्ष में सबूत भी पेश किए हैं। इस दौरान उन्होंने एक पत्रावली का हवाला दिया, जिसमें भगवान श्रीराम के वंश के सभी पूर्वजों का नाम क्रमवार दर्ज हैं। उन्‍होंने बताया कि 289वें वंशज के रूप में सवाई जयसिंह और 307वें वंशज के रूप में महाराजा भवानी सिंह का उल्लेख है। यह जानकारी पोथीखाने के नक्शे में भी दर्ज है।


Leave a comment