भाजपा को कर्नाटक नहीं दोहराने देगे-गहलोत

जागरूक टाइम्स 214 Sep 23, 2019

जयपुर (ईएमएस)। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की छह विधायकों को कांग्रेस में शामिल करने वाली एक चाणक्ीय गूंगली ने भाजपा के नेताओं के होश उड़ा दिए है सूत्रों की खबर है कि भाजपा राजस्थान में कर्नाटक दोहराने की शतरंज बिछा रही थी मुख्यमंत्री गहलोत की राजनैतिक जादूगरी ने ऐसा मास्टर स्ट्रॉक खेला की बसपा के सभी छह विधायकों ने कांग्रेस की सदस्यता लेकर भाजपा को कानोंकान खबर नहीं लगने दी।

माना जा रहा है कि गहलोत की कांग्रेस सरकार को 100 के मुकाबले 106 विधायकों की संख्या से सरकार को मजबूत करने की चाणक्ीय चाल का पता राज्य कांग्रेस के किसी भी वरिष्ठ या कनिष्ठ नेताओं को पता नहीं था कहते है कि विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को पूरे घटनाक्रम को सफल बनाने और विधायिका के नियम कानून के मुताबिक सभी छह विधायकों का मर्ज हुआ है भाजपा और गहलोत की राजनीति से इत्तफाक रखने वालों के लिए ऐसा गुप्त प्लान खेला गया जिसका पता सरकार में उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट को भी नहीं चलने दिया गया।

मुख्यमंत्री ने सभी छह बसपा विधायकों के कांग्रेस में ज्वाइन करने के बाद जो मीडिया में बयान दिया उससे स्पष्ट होता है कि भाजपा राजस्थान में 73 विधायकों की संख्या में जोड तोड की राजनीति करने पहले कर्नाटक का खेल राज्य में दोहराने की फिराक में थी उनका आशय था कि प्रलोभन के जरिए सभी छह विधायकों को भाजपा की सदस्यता दिला दी जायें तीसरा खुलासा किया लोकतंत्र को बचाने में बसपा सुप्रीमों को बडा दिल रखने की जरूरत है वे बसपा के छह विधायकों से राजस्थान में सरकार तो बना नहीं सकती इसलिए लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए उक्त विधायकों ने कांग्रेस का साथ दिया मुख्यमंत्री के बयानो के उलट सूत्र बताते है कि गहलोत की समूची चाणक्ीय चाल का विलय के एनवक्त पर सोनिया गांधी को बताया गया कि बसपा के सभी छह विधायकों ने कांग्रेस की सदस्यता ले ली है।


Leave a comment