फर्जी वोटर प्रकरण में सख्त हुआ निर्वाचन आयोग, पड़ताल हुई तेज

जागरूक टाइम्स 215 Aug 22, 2018

- कांग्रेस ने की थी 45 लाख फर्जी मतदाताओं की शिकायत

जयपुर @ जागरूक टाइम्स

मतदाता सूची में फर्जी वोटर दिखने पर अब तुरंत दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। कांग्रेस के 45 लाख फर्जी मतदाता की शिकायत पर निर्वाचन विभाग ने यह एक्शन लिया है। जो शिकायतें मिल रही है, उनकी जांच करने के आदेश जिला निर्वाचन से जुड़े अधिकारियों को दिए गए हैं।

यह भी पढ़े : जालोर - सांचौर लिफ्ट केनाल टूटी

गौरतलब है कि आगामी विधानसभा चुनाव की सियासी दांवपेंचों के बीच अब निर्वाचन विभाग एक्शन मोड पर है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्विनी भगत ने कहा कि, 'कांग्रेस पार्टी की तरफ से कई आपत्तियां आई हैं, जिसमें फर्जी मतदाता होने की शिकायत की गई है। शिकायतों को रजिस्टर करके जिले में निर्वाचन से जुड़े अधिकारियों को भेज दिया गया है और उन्हें दिशा निर्देश दिए गए हैं। 


जो दावे और आपत्तियां की जा रही है, उनकी जांच करें और अगर कोई ऐसी शिकायत फर्जी मतदाता की मिलती है तो उसे तुरंत प्रभाव से मतदाता सूची से अलग करके दोषी के खिलाफ कार्रवाई करें।' कांग्रेस की तरफ से लगाए गए इन आरोपों पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्विनी भगत ने कहा कि, 'प्रदेश में इस साल 75 लाख से अधिक नए मतदाताओं को मतदाता सूची में जोड़ा गया है, यह चुनाव आयोग की तरफ से किए गए प्रयासों का नतीजा है।'

यह भी पढ़े : जालोर में एक युवक ने ट्रेन के आगे लगाई छलांग

आपको बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल भारत निर्वाचन आयोग में शिकायत करके आया है। इस प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश में फर्जी मतदाताओं के नाम जुड़ने की शिकायत की थी। इस शिकायत में कहा गया था कि, 'प्रदेश में इस साल 75 लाख नए मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जोड़े गए हैं, इनमें से 45 लाख ऐसे नाम मतदाता सूची में जोड़े गए जो फर्जी हैं।' कांग्रेस ने पूरे मामले की जांच करने की मांग करी थी जिसके बाद भारत निर्वाचन आयोग ने जिला निर्वाचन विभाग को इन आपत्तियों दर्ज कर जांच करने के दिशा निर्देश दिए थे।

ताज़ा खबरों के लिए हमें फॉलो करे फेसबुक | इंस्टाग्राम  | ट्विटर

Leave a comment