राजस्थान में डीजीपी व पटना में आईजी करेंगे पत्रकार दुर्गसिंह मामले की जांच

जागरूक टाइम्स 366 Aug 24, 2018

जयपुर/पटना/बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

बाड़मेर के पत्रकार दुर्ग से राजपुरोहित की गिरफ्तारी के मामले में गृहमंत्री कटारिया ने पुलिस महानिदेशक को जांच करने के निर्देश दे दिए हैं। वे इस तथ्य की जांच करेंगे कि पटना पुलिस की बिना उपस्थिति के गिरफ्तारी सामान्य प्रक्रिया थी या उसके पीछे किसी की गलत तरीके से भूमिका रही है। 

यह भी पढ़े : राजस्थान में डीजीपी व पटना में आईजी करेंगे पत्रकार दुर्गसिंह मामले की जांच 

गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने बताया कि स्थानीय लोगों ने ज्ञापन दिया था, जिसमें लोगों ने आरोप लगाते हुए बताया है कि पटना पुलिस बाड़मेर नहीं आई। वहां से जारी वारंट की सूचना पर बाड़मेर पुलिस ने पत्रकार दुर्गसिंह को बिना मामले की जानकारी के ही गिरफ्तार कर लिया। इस पर पुलिस महानिदेशक को जांच के लिए कहा है। जांच इन बिंदुओं पर की जाएगी कि वारंट तामील की प्रक्रिया क्या है? इस मामले में पुलिस ने कानूनी प्रक्रिया अपनाई या नहीं? उल्लेखनीय है कि पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित को एससी-एसटी एक्ट के मामले में बिहार पुलिस के एक वारंट पर गिरफ्तार कर पटना भेज दिया गया। 

यह भी पढ़े : गर्भावस्था में न करें ये गलतियां

बिहार के सीएम कुमार ने दिए जांच के आदेश

पत्रकार दुर्ग सिंह की गिरफ्तारी प्रकरण को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर अब जोनल आईजी पटना इस मामले की जांच करेंगे। जानकारी के अनुसार राजस्थान के गृहमंत्री की ओर से गुरुवार को मामले की जांच के आदेश के बाद यहां के डीजीपी ने बिहार डीजीपी से इस प्रकरण में बात की। इसके बाद यह मामला बिहार मुख्यमंत्री के ध्यान में लाया गया। बिहार सीएम ने मामले की जांच आईजी पटना जोनल को जांच करने के निर्देश दिए हैं।

ताज़ा खबरों के लिए हमें फॉलो करे फेसबुक | इंस्टाग्राम  | ट्विटर

Leave a comment