राजस्थान विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने टिकट चयन का काम शुरू किया

जागरूक टाइम्स 569 Aug 27, 2018

जयपुर @ जागरूक टाइम्स

राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने प्रत्याशियों के चयन का काम शुरू कर दिया है। इसके लिए एआईसीसी ने जहां एक निजी एंजेंसी से सर्वे कराया है। वहीं पार्टी लेवल पर चारों सहप्रभारियों से भी दावेदारों का पैनल तैयार कराया गया है। सहप्रभारियों ने मेरा बूथ मेरा गौरव सम्मेलन के दौरान गुपचुप दावेदारों की फील्ड से जमीनी हकीकत जुटाते हुए यह रिपोर्ट तैयार की है। बताया जा रहा है कि चारों ने रिपोर्ट टिकटों के लिए गठित स्क्रीनिंग कमेटी को सौंप दी है।

यह भी पढ़े : महिला यात्री के सामने हस्तमैथुन करने वाला रिक्शा चालक गिरफ्तार

राजस्थान विधानसभा चुनाव में अब करीब तीन माह शेष है। लिहाजा कांग्रेस ने प्रत्याशियों की खोजबीन का सिलसिला शुरू कर दिया है। इस बार उम्मीदवारों के चयन के लिए भी कांग्रेस हाईकमान ने कई एक्सपेरीमेंट्स किए हैं। गुजरात और कर्नाटक की तर्ज पर निजी एजेंसी से सर्वे कराने और सहप्रभारियों से दावेदारों का पैनल तैयार कराने का फार्मूला राजस्थान में भी अपनाया है। राजस्थान में पार्टी ने तरुण कुमार, काजी निजामुद्दीन, देवेन्द्र यादव और विवेक बंसल को सहप्रभारी लगा रखा है। चारों ने मेरा बूथ मेरा गौरव सम्मेलन के दौरान दावेदारों की हर एंगल से जानकारी जुटाई। सहप्रभारियों ने गुपचुप रूप से इस काम को ऐसे अंजाम दिया कि किसी को भनक तक नहीं लगी। सहप्रभारियों ने दावेदारी की आर्थिक, सामाजिक, राजनीतिक, नेतृत्व क्षमता और जनता के बीच लोकप्रियता जैसे फेक्टर की गहराई से पड़ताल की।

यह भी पढ़े : जालोर के केशवना में कार में सिलेण्डर फटा, कार जल कर खाक 

फिर चारों सहप्रभारियों ने कागजों में उतारते हुए दावेदारों के नामों के पैनल तैयार किए। सूत्रों के मुताबिक सहप्रभारियों ने 2 से लेकर पांच नामों के पैनल पहले रफली तैयार किए। फिर अंत में तीन तीन नामों का पैनल बनाकर स्क्रीनिंग कमेटी चेयरपर्सन कुमारी शैलजा को सौंप दिया। यानी हर सहप्रभारी के जिम्मे 50-50 सीटे हैं। ऐसे में करीब पैनल में 700 दावेदारों के नाम बताए जा रहे हैं। सहप्रभारियों की इसको लेकर कुमारी शैलजा से दो बार बैठक भी हो चुकी है। वहीं सहप्रभारियों द्वारा शैलजा को पैनल सौंपने के बाद टिकट के दावेदारों की धड़कने बढ़ गई है। सहप्रभारियों से सम्पर्क साधते हुए अपना नाम होने या नहीं होने की जानकारी जुटाने में लग गए हैं।

यह भी पढ़े : तबादलों पर 31 अगस्त तक छूट, जल्द जारी हो सकती है जम्बो सूची 

अब बताया जा रहा है कि एआईसीसी द्वारा कराए गए सर्वे और सहप्रभारियों द्वारा दी गई दावेदारों की रिपोर्ट पर राजस्थान के दिग्गज नेताओं से स्क्रीनिंग कमेटी चर्चा करेगी। चर्चा के बाद स्क्रीनिंग कमेटी किसी सिंगल नाम पर मुहर लगाएगी और उसके बाद नाम केन्द्रीय चुनाव समिति के पास मुहर लगाने के लिए भेजा जाएगा। तो कह सकते हैं कि अंदरखाने कांग्रेस ने प्रत्याशी चयन प्रक्रिया अब शुरू कर दी है।

ताज़ा खबरों के लिए हमें फॉलो करे फेसबुक | इंस्टाग्राम  | ट्विटर

Leave a comment