दुनिया के सबसे ज्यादा गर्मी वाले राजस्थान में बिजली ने छुड़ाए पसीने, चुरू में आंदोलन की चेतावनी

जागरूक टाइम्स 287 Jun 6, 2019

चुरू (ईएमएस)। राजस्थान भीषण गर्मी के चलते पिछले चार दिन से मौसम विभाग के रेड अलर्ट पर है और यहां तापमान 50 डिग्री तक पार कर चुका है। दुनिया के छह सबसे गर्म शहरों में प्रदेश के चार शहर शामिल थे लेकिन भीषण गर्मी झेलने वाले राजस्थानी अब गर्मी से नहीं बिजली की अघोषित कटौती से तप रहे हैं। चुनाव के बाद से कई इलाकों में दिन में बिजली 15 से 20 बार गुल हो रही है। यहां तक कि राजधानी जयपुर में भी ऐसा ही हाल है। दिन में चार-पांच बार बिजली कट के बाद अब रात को भी दो-तीन बार बिजली गुल होने लगी है। दुनिया के सबसे गर्म (50.3 डिग्री तापमान) शहर चूरू में तो बिजली गुल से परेशान लोगों ने तो सरकार को अल्टीमेटम तक दे डाला है।

राजधानी में रोजाना 200 लाख से अधिक यूनिट बिजली सप्लाई हो रही है। शहर में रोजाना दोपहर को लोड अधिकतम 900 मेगावाट से ऊपर बढ़ रहा है। और ऐसे में ओवरलोड सिस्टम में फॉल्ट और ट्रिपिंग के मामले बढ़ रहे है। यहीं कारण है कि बिजली आपूर्ति और लोड मैनेजमेंट डिपार्टमेंट के लिए सिरदर्द बन गया है। अब तो रात में भी दो से तीन बार गुल होने लगी है। कंट्रोल रूम पर ऐसे शिकायतों की संख्या रोजाना 250 से 300 तक पहुंच रही है।

आंधी-बारिश ने बढ़ाई मशक्कत, एक हजार से अधिक पोल क्षतिग्रस्त
पिछले महीने प्रदेश में आए तूफान और आंधी से बिजली महकमे को खासा नुकसान पहुंचाया था। अंधड-बारिश के चलते बीकानेर, जोधपुर, जयपुर समेत कई जिलों में बिजली व्यवस्था प्रभावित हुई थी जिसे दुरुस्त करने में अब भी विभाग जुटा हुआ है। कई जगह बिजली पोल गिरने के साथ ही ट्रांसफर्मर्स को भी नुकसान हुआ था। सिर्फ जयपुर डिस्कॉम के अलवर जिले में ही 659 और दौसा जिले में 311 बिजली पोल गिरे थे। हालांकि ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला ने दावा किया है कि जहां जहां बिजली पोल गिरे थे वहां व्यवस्था दुरुस्त कर ली गई है। और गांवों में भी बिजली व्यवस्था सूचारू है।

Leave a comment