पत्रकार दुर्गसिंह गिरफ्तारी प्रकरण : सरहदी इलाके से लेकर पटना तक मुखर हुआ विरोध

जागरूक टाइम्स 271 Aug 23, 2018

- बाड़मेर पुलिस सवालों के घेरे में

बाड़मेर(चौहटन) @ जागरूक टाइम्स

पश्चिमी राजस्थान के सरहदी जिले बाड़मेर के पत्रकार दुर्गसिंह राजपुरोहित की गिरफ्तारी का मामला देश भर में चर्चा में है। इसके साथ ही सरहदी इलाकों से लेकर प्रदेश और पटना तक इसके विरोध में पत्रकार व आमजन गिरफ्तारी का विरोध जताने जता रहे है । वहीं अब लोग बाड़मेर पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़े कर रहे हैं। 


जिले के सरहद से सटे चौहटन क्षेत्र में भी गुरुवार को पत्रकार की गिरफ्तारी का विरोध किया गया। पत्रकारों सहित सर्वसमाजों के सैकड़ों लोगों ने चौहटन में शांतिपूर्ण रैली निकालकर उपखंड अधिकारी भूपेंद्र यादव को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री व राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपकर पत्रकार दुर्गसिंह राजपुरोहित को न्याय दिलाने की गुहार लगाई है।


यह भी पढ़े : बाड़मेर के पत्रकार की गिरफ्तारी को लेकर भारत भर में भड़की आक्रोश की आग

पूरा देश मांग रहा है दुर्गसिंह के लिए न्याय- राठौड़

इससे पूर्व ग्राम पंचायत चौहटन के मैदान में आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए जिला परिषद सदस्य एवं एडवोकेट रूपसिंह राठौड़ ने बताया कि एक पत्रकार को जिस तरह षडयंत्र के तहत गिरफ्तार करवाया, उसकी आलोचना बाड़मेर जिले ही नहीं बल्कि पूरे देश मे जगह जगह हो रही है। समाज सेवी रामसिंह बोथिया ने बताया कि हमेशा प्रत्येक व्यक्ति को न्याय के साथ खड़ा रहना चाहिए, चाहे वो किसी भी जाति या धर्म का व्यक्ति हो।

वीडियो देखे : पाली : दलित युवक के साथ दुष्कर्म  

उन्होंने कहा कि बाड़मेर पुलिस के अधिकारियों द्वारा निर्दोष व्यक्ति के प्रति उत्सुकता दिखाई गई है वह एक साजिश का हिस्सा है। सरपंच संघ चौहटन अध्यक्ष शाकर खान समेजा ने बताया कि बाड़मेर जिले में शांतिपूर्ण माहौल को दूषित करने के प्रयास चल रहे हैं, जिसका हम सबको को एक साथ रहकर अन्याय का विरोध करना चाहिए। एक पत्रकार की कलम को दबाने नहीं देनी है। पंच पटी दर्जी समाज के अध्यक्ष ओंकारसिंह चावड़ा ने बताया कि जिस तरह लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ का गला घोंटने का प्रयास किया जा रहा है वह निंदनीय है। इसका हम पुरजोर विरोध करते हैं। 

वीडियो देखे : बाड़मेर - ट्रेन की आगे कूदकर युवक ने की आत्महत्या 

इशाराम दहिया, अम्बालाल अलबेला और कैप्टन खुमाण सिंह राजपुरोहित एवं भाजयुमो मंडल अध्यक्ष नरपतसिंह दुधवा, कांग्रेस प्रवक्ता जगदीश विश्नोई, खेतसिंह घोनिया ने भी सभा को सम्बोधित किया। जिसके बाद सभी सर्वसमाज के लोगों ने मौन रैली के रूप में बाजार से होते हुए उपखण्ड मुख्यालय पहुंचे। जहां उपखण्ड अधिकारी भूपेंद्र यादव को राष्ट्रपति एव राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपकर न्याय की मांग की। वहीं साजिश के तहत फंसाने वालो के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करवाने की मांग की।

यह भी पढ़े : जालोर में एक युवक ने ट्रेन के आगे लगाई छलांग 

इस दौरान सर्व समाज की ओर से ढोक सरपंच शैतानसिंह भाटी, बावड़ी कला सरपंच विजयसिंह सोढ़ा, भाजपा मंडल उपाध्यक्ष पीरसिंह राजपुरोहित, नवातला सरपंच नारायण सिंह सोढ़ा, गजेसिंह राठौड़, नारायणी सेना के अध्यक्ष कमलेश सेन, पंचायत समिति सदस्य प्रतिनिधि भीमाराम जोगेश, भजनलाल ढाका, हेमाराम फुलवारिया, स्वरूपसिंह राठौड़, दौलत कुमार शर्मा, रणजीतसिंह राठौड़, धर्मसिंह राजपुरोहित, हड़वंत सिंह सनाऊ, विपिन भंसाली, कूम्पसिंह ढोक, डूंगरमल राठी, लुणसिंह नवापुरा, जसु भाटी, ओबीसी मोर्चा मंडल अध्यक्ष प्रकाश सेन, दलपतसिंह सनाऊ, मदनसिंह भाटी, हिंदू सिंह राजपुरोहित, हिन्दुसिंह बिसु कला, गणेशसिंह ढोक, नरपतसिंह राजपुरोहित, गुलाब सिंह रावणा राजपूत, विक्रमसिंह बावड़ी कला, दुर्जनसिंह खारिया, महेशसिंह राजपुरोहित, जयरामसिंह धनाऊ, मदनसिंह रड़वा, हिंदूसिंह राजपुरोहित सहित सैकड़ों की संख्या में सर्व समाज के लोग मौजूद रहे।

ताज़ा खबरों के लिए हमें फॉलो करे फेसबुक | इंस्टाग्राम  | ट्विटर

Leave a comment