दो लोगों का अपहरण कर एक करोड़ फिरौती मांगने वाले तीन हुए गिरफ्तार, दोनों को कराया मुक्त

जागरूक टाइम्स 177 Oct 25, 2019

बाड़मेर. जिला पुलिस ने फिरौती व अपहरण के एक मामले का खुलासा करते हुए अपहरण किए गए दो लोगों को मुक्त कराया है. साथ ही एक करोड़ की फिरौती मांगने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.हैदराबाद निवासी के. श्रीकांत रेड्डी सोलर व्यवसाय के सिलसिले में बाड़मेर पहुंचे थे. बाड़मेर में वह तीन लोगों के संपर्क में आए और उन्हीं तीनों ने साजिश रचकर रेड्डी व उनके दिल्ली से आए साथी का अपहरण कर एक करोड़ की फिरौती की मांग कर दी थी. एक करोड़ की राशि जब नहीं मिली आरोपियों ने हैदराबाद निवासी के. श्रीकांत रेड्डी दोनोंऔर उनके साथी की जमकर पिटाई की. दबाव में आकर रेड्डी व उसके साथी ने एक लाख रुपए नकद आरोपियों के खाते में जमा करवाया, इसके अलावा 25 लाख रुपए का आरटीजीएस करवाया जो किसी कारण से रिजेक्ट हो गया.

आरोपियों ने इन दोनों को मंगलवार से अपहरण कर रखा था और एक करोड़ की फिरौती के लिए दोनों की जमकर पिटाई कर रहे थे. जब एक करोड़ की राशि नहीं बनी तो अपहृतों के परिजनों के माध्यम से पुलिस कंट्रोल रूम पर फोन आया और पूरी घटना बताई गई. घटना की जानकारी मिलने के बाद एसपी शरद चौधरी ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक खींव सिंह भाटी के नेतृत्व में विशेष टीम बनाकर आरोपियों की तलाश शुरू की. इस बात का विशेष खयाल रखा गया कि कहीं आरोपियों को इस बात की भनक नहीं लगे .

आरोपियों के कब्जे से दोनों अपहर्ताओं को सकुशल छुड़ाना पहली प्राथमिकता थी. इस पूरे मामले में सीओ बाड़मेर विजय सिंह चारण के साथ विशेष टीमों ने कार्रवाई करते हुए अलसुबह दोनों अपहर्ताओं को मुक्त करा लिया. इसके बाद पाली के जैतारण निवासी शैतान सिंह चौधरी, बाड़मेर के मोहन राम चौधरी और भीखा राम उर्फ विक्रम सिंह जाट को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की. पुलिस की प्रारम्भिक जांच यह भी सामने आया है कि इस पूरे प्रकरण में तीनों ने फिल्मी अंदाज में पहले पीड़ितों का विश्वास जीता और इन तीनों ने ही अपहरण करवाया.


Leave a comment