निगम की साधारण सभा की बैठक में पार्षदों ने पार की मर्यादा

जागरूक टाइम्स 426 Sep 25, 2018

- माइक छीनकर बजाई टेबल, सफाईकर्मी भर्ती से वंचित अभ्यर्थियों ने बैठक में घुस जोरदार हंगामा किया

- झड़प बढ़ने पर तुरंत शुरू करवाना पड़ा राष्ट्रगान

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

नगर निगम सभागार में मंगलवार को साधारण सभा की बैठक आधे घंटे में संपन्न हो गई। इस बैठक में सफाईकर्मी भर्ती से वंचित अभ्यर्थियों ने घुस जोरदार हंगामा किया और महापौर व मुख्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी की। बैठक में महापौर घनश्याम ओझा प्रस्ताव भी नहीं पढ़ पाए। करीब आधे घंटे बाद राष्ट्रगान कर बैठक संपन्न कर दी गई। 

बैठक में कांग्रेस पार्षद भर्ती में वंचित सफाईकर्मियों की मांगों को सुनने के लिए महापौर के सामने अड़ गए। इस दौरान बीजेपी पार्षदों ने खड़े होकर सभागार में कांग्रस पार्षदों से बहस शुरू कर दी। इस बीच महापौर प्रस्ताव को लेकर माइक पर बोलते रहे और नीचे सफाईकर्मी वंचित अभ्यर्थी हंगामा व नारा लगाते रहे। कांग्रेस दल के उप नेता प्रतिपक्ष गणपतसिंह चौहान से पार्षद प्रदीप बेनिवाल ने माइक छीन लिया। इस पर गणपतसिंह चौहान ने टेबलें बजाकर विरोध जताया। माहौल गर्म हो जाने से दोनों ही दलों के पार्षदों में झड़प की नौबत आ गई। इस पर महापौर ओझा ने तुरंत ने बैठक संपन्न करने का एेलान कर राष्ट्रगान शुरू करवा दी। बैठक में शहर के विकास को लेकर विभिन्न कार्योँ की वित्तिय व प्रशासनिक स्वीकृतियां जारी कर दी गई।

दरअसल, विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने से पहले शहर में विकास कार्यों की कार्य योजनाओं को प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृति देने को आहूत नगर निगम बोर्ड की साधारण सभा आज सुबह हंगामे की भेंट चढ़ गई और विकास हंगामे में दब गया। नगर निगम की साधारण सभा की बैठक शुरु होने के कुछ देर बाद ही हाल ही में निगम में हुई सफाईकर्मियों की भर्ती में नौकरी से वंचित रहे उम्मीदवारों और उनके समर्थकों ने सभा कक्ष में पहुंच कर हंगामा किया और हंगामे के चलते बैठक को स्थगित करना पड़ा। करीब एक महीने से निरन्तर हो रहे राजनीतिक कार्यक्रमों के चलते निगम के साधारण सभा की बैठक टलती रही और आज इस बैठक को होना था। बैठक की शुरुआत में ही हंगामा हो गया। काफी समय बाद हुई इस बैठक में सत्तारूढ़ भाजपा पार्षद और महापौर इस बैठक में आगामी चुनाव को देखते हुए विकास कार्यों को स्वीकृत कराने के लिए सोच कर आए थे जबकि कांग्रेस पार्षद दल अंतिम दिनों में हो रही इस बैठक को लेकर अब तक किये गये विकास के नाम पर खोखले दावों को लेकर पक्ष को घेरने की तैयारी करके आया था। 

सभा कक्ष में घुस कर प्रदर्शन

सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों ही अपने मन की कर पाते इससे पहले ही सफाईकर्मी भर्ती प्रकरण में घोटाले और भ्रष्टाचार के लग रहे आरोपों के बीच आज भर्ती से वंचित रहे उम्मीदवार, उनके परिजन और समर्थक नेता सभा कक्ष में घुस गए और वहीं पर धरना प्रदर्शन और नारेबाजी करने लगे। हालांकि कहने को साधारण सभा की बैठक के दौरान पुलिस की व्यवस्था शांति व सुरक्षा के लिहाज से की जाती है लेकिन भीड़ के रूप में आई भर्ती से वंचित उम्मीदवारों के आगे बेबस नजर आई। 

महापौर कक्ष के बाहर प्रदर्शन

नगर निगम की इस साधारण सभा में विकास कार्यों की प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृतियां जारी होनी थी लेकिन शहर का दुर्भाग्य कहें या नेताओं की आलस्य की प्रकृति के चलते इस बार की बैठक में विकास की आखिरी सांस भी टूटती नजर आई। सभा कक्ष में अपना शक्ति प्रदर्शन कर साधारण सभा को स्थगित कराने में सफल रहे आंदोलनकारी सफाईकर्मियों ने महापौर कक्ष के बाहर भी धरना प्रदर्शन और भजन शुरु कर दिया। 

यह बोले प्रतिपक्ष नेता

बैठक को लेकर प्रतिपक्ष नेता राजेन्द्र सोलंकी ने कहा कि नगर निगम की इस बैठक में जो परिवादी और फरीयादी आए हुए हैं उनकी लंबित समस्याओं का निराकरण करने के बाद आगामी बैठक के मुद्दों पर चर्चा होगी। इस दौरान कई बार पक्ष विपक्ष के पार्षद भी अपने अपने क्षेत्र की समस्याओं को लेकर आमने सामने भी हुए।

Leave a comment