जंतर-मंतर में संविधान की प्रतियां जलाने के विरोध में एसटी-एससी युवाओं ने सौंपा ज्ञापन

जागरूक टाइम्स 209 Aug 11, 2018


बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

देश की राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर में संविधान की प्रतियां जलाने के विरोध में एससी-एसटी युवाओं ने बाड़मेर एडीएम राकेश कुमार के मार्फत महामहिम राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर आरोपियों पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा चलाकर कार्यवाही करवाने की मांग की।
ज्ञापन में उन्होंने बताया कि आजादी के 70 साल बाद भी देश की आत्मा जंतर मंतर पर देश के संविधान की प्रतियां कुछ मनोवादी हिंदूवादी, सामंती ताकतों ने वर्तमान बीजेपी, आरएसएस के संरक्षण में जला दी गई, जो राष्ट्रद्रोह की श्रेणी में आता है।
उन्होंने बताया कि संविधान की प्रतियां जलाने का मतलब है कि भारत देश की सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न, समाजवादी, पथ निरपेक्ष, लोकतांत्रिक गणराज्य होने की अवधारणा का विरोध करना है। उन्होंने कहा कि ऐसे घृणित कृत्य से लोकतंत्र में विश्वास करने वालो को भारी ठेस पहुंची है।
ज्ञापन में उन्होंने जंतर-मंतर पर संविधान की प्रतियां जलाने वालों के खिलाफ राष्ट्रद्रोह को मुकदमा चलाकर सख्त कानूनी कार्यवाही करवाने की मांग की है।

Leave a comment