रेशमा का शव मुनाबाव-खोखरापार सड़क मार्ग से भारत लाने की कवायद

जागरूक टाइम्स 390 Jul 29, 2018

-बाड़मेर की महिला का पाक में मौत का मामला : शनिवार को नहीं पहुंच पाया रेशमा का शव

-वीजा अवधि समाप्त, कागजी कार्यवाही नहीं हो पाई पूर्ण

बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

बाड़मेर जिले के गढरा रोड के अगासड़ी गांव की महिला का पाकिस्तान में इंतकाल होने के चार दिन बाद भी शव भारत नहीं ला जा सका। अब शव को मुनाबाब-खोखरापार के रास्ते सड़क मार्ग से लाने की कवायद की जा रही है। ऐसे में आगामी दो-तीन दिन में शव को भारत लाया जा सकेगा। सूत्रों के मुताबिक वीजा अवधि समाप्त होने के बाद कागजी कार्यवाही पूर्ण नहीं होने के कारण शव लाने में देरी हुई है। फिलहाल, विदेश मंत्रालय की ओर से शव को भारत लाने का प्रयास किया जा रहा है।

गौरतलब है कि अगासड़ी निवासी रेशमा पत्नी राणा खान गत30 जून को थार एक्सप्रेस से अपने पुत्र व चार अन्य के साथ अपने रिश्तेदारों से मिलने के लिए पाकिस्तान गई थी। जहां 24 जुलाई को 65 वर्षीय रेशमा को सामान्य बुखार आया और 25 जुलाई की दोपहर को रेशमा का इंतकाल हो गया। जिसके बाद बाड़मेर में निवास कर रहे रेशमा के परिजनों को उसकी मौत की सूचना मिली तो उन्होंने रेशमा का शव भारत मंगवाने को लेकर कवायद शुरू की। इस दौरान परिजनों ने बाड़मेर जिला कलक्टर व शिव विधायक मानवेन्द्रसिंह से मिलकर रेशमा का शव भारत मंगवाने के लिए मदद मांगी।

विदेश मंत्री ने किया था ट्वीट

मीडिया में खबर प्रकाशन के बाद भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर विदेश मंत्रालय को शव मंगवाने को लेकर परिजनों की मदद करने को कहा। जिसके बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान से रेशमा के शव को मंगवाने की कवायद शुरू कर दी। वहीं खोखरापार में थार एक्सप्रेस करीब सवा घंटे रुकी रही, लेकिन, वीजा समाप्ति और कागजी कार्यवाही पूरी नहीं होने कारण रेशमा के शव के साथ परिजन खोखरापार नहीं पहुंच पाए और थार एक्सप्रेस अपने गंतव्य के लिए रवाना हो गई। जिसके बाद सड़क मार्ग द्वारा रेशमा का शव लाने की बात सामने आई है। जिसको लेकर बाड़मेर में रेशमा के परिजनों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर मुनाबाव-खोखरापार से शव मंगवाने की मांग की है। परिजनों का कहना है कि वाघा बॉर्डर से यदि शव लाया जाता है तो दूरी अधिक होने के कारण शव खराब भी हो सकता है। मामले को लेकर उन्होंने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर भारत सरकार से रेशमा के शव को मुनाबाव-खोखरापार सड़क मार्ग से शव मंगवाने की मांग की है।

2-3 दिन में सड़क मार्ग से भारत पहुंचेगा शव

रेशमा के शव को भारत मंगवाने को लेकर शिव विधायक मानवेन्द्रसिंह जसोल के मुताबिक उनकी पाकिस्तान के इस्लामाबाद में भारतीय राजदूत से लगातार बात हो रही है। उन्होंने कहा कि शनिवार रात उनकी फिर पाकिस्तान बात हुई थी। उन्होंने कहा कि आज रविवार को अवकाश की वजह से बात नहीं हो पाई। उन्होंने कहा कि आगामी दो-तीन दिनों में विशेष प्रबंध कर रेशमा का शव खोखरापार-मुनाबाव मार्ग से एम्बुलेंस द्वारा रेशमा का शव भारत लाया जाएगा।

Leave a comment