आनंदपाल की पुण्यतिथि पर रक्तदाताओं ने किया बवाल

जागरूक टाइम्स 744 Jun 24, 2018

-अस्पताल प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप

बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

आनंदपालसिंह सांवराद की प्रथम पुण्यतिथि पर रविवार को शहर के अम्बर सिनेमा के पास स्थित रावणा राजपूत समाज के भवन में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया था, लेकिन कई रक्तदाताओं को बिना रक्तदान किए ही वहां से लौटना पड़ गया। इससे रावणा राजपूत समाज के लोग भड़क गए और बाड़मेर अस्पताल सहित चिकित्सा विभाग पर अव्यवस्था व भेदभाव का आरोप लगाते हुए बाड़मेर एडीएम ओ.पी. विश्नोई को ज्ञापन सौंपकर अस्पताल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए।

ज्ञापन में बताया कि आनंदपालसिंह सांवराद की प्रथम पुण्यतिथि पर रावणा राजपूत समाज की ओर से रक्तदान शिविर व श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया था। समाज के लोगों ने बताया कि रक्तदान शिविर की सूचना बाड़मेर पीएमओ को दी गई थी। वहीं सूचना में 301 रक्तदाताओं की ओर से रक्तदान करने का लक्ष्य भी चिकित्सा अधिकारियों को दिया था, लेकिन चिकित्सा विभाग की टीम ने केवल 96 यूनिट रक्त ही लिया। वहीं मेडिकल टीम ने इससे अधिक रक्त लेने से साफ इनकार कर दिया। वहीं उन्होंने रक्तकिट व रक्त रखने की व्यवस्था ना होने का कहकर रक्त लेने ने मना कर दिया।

रावणा राजपूत समाज के अध्यक्ष ईश्वरसिंह जसोल ने बताया कि चिकित्सा विभाग को सूचना के बाद भी इस तरह की लापरवाही बरती गई। जिससे रावणा राजपूत समाज आहत है और पीएमओ सहित चिकित्सा अधिकारियों की निंदा करता है। उन्होंने कहा कि जिलेभर के 19 ब्लॉक से करीब 500 लोग रक्तदान करने के लिए जिला मुख्यालय पहुंचे थे, लेकिन बाड़मेर चिकित्सा अधिकारियों ने रक्त ना लेने के की बात कहकर जिले के समस्त क्षेत्रों से आए रक्तदाताओं को निराश किया है जो न्यायोचित नहीं है। जिससे रावणा राजपूत समाज में बाड़मेर प्रशासन के प्रति रोष व्याप्त है। उन्होंने कहा कि सरकार रक्तदान को महादान बताती है और विभिन्न कार्यक्रम चलाकर रक्तदाताओं को रक्तदान करने के लिए प्रोत्साहित करती है। वहीं चिकित्सा अधिकारी सरकार की इस जीवनदायिनी मंशा पर पानी फेरते नजर आ रहे हैं। ज्ञापन में रावणा राजपूत के लोगों ने चिकित्सा विभाग, पीएमओ, रक्त लेने वाली टीम द्वारा की गई लापरवाही की जांच करवाने की मांग की है।

Leave a comment