सफाईकर्मी भर्ती : भड़की महिलाएं बोली- कलेक्टर साहब शर्म आनी चाहिए

जागरूक टाइम्स 115 Jul 24, 2018

-गढ्ढे खोद यहीं मर जाएंगे, अपना हक़ नहीं जाने देंगे - वाल्मीकि समाज

- प्रशासन के गले का फांस बनी सफाईकर्मी भर्ती 

बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

नगर परिषद में सफाईकर्मी भर्ती बाड़मेर जिला प्रशासन व नगर परिषद के लिए गले की फांस बन गई है। नगर परिषद की ओर से वाल्मीकि समाज के अलावा अन्य जातियों को शामिल करने की विज्ञप्ति जारी करने एवं लॉटरी प्रक्रिया में 88 लोगों के चयन को लेकर अब वाल्मीकि समाज ने धांधली का आरोप लगाया है।

दरसअल, भर्ती के बाद चयनित सफाईकर्मियों की लिस्ट जारी होते ही वाल्मीकि समाज ने प्रशासन पर भर्ती प्रक्रिया में धांधली का आरोप लगाया। वहीं वाल्मीकि समाज की ओर से नगर परिषद व जिला प्रशासन का लगातार विरोध किया जा रहा है। मंगलवार को वाल्मीकि समाज के महिला पुरुषों ने हाथ में झाडू लिए नगर परिषद से जिला कलेक्ट्रेट तक रैली निकाली और नगर परिषद व जिला प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। वाल्मीकि समाज की महिलाएं जिला कलेक्टर पर भड़की नजर आई। भर्ती से वंचित महिलाओं ने कहा कि 'कलेक्टर साहब शर्म आनी चाहिए... जो आप वाल्मीकि समाज का हक मार रहे हैं ...' वाल्मीकि समाज की महिलाओं ने कहा कि समाज मे कुछ महिलाएं विधवा है और उनके बच्चे छोटे-छोटे हैं। उनकी परवरिश करने में बड़ी दिक्कत हो रही है। वहीं समाज मे कई परिवार ऐसे हैं, जिनके घर में एक भी व्यक्ति की नौकरी नहीं है। उनका कहना है कि सरकार वाल्मीकि समाज के प्रत्येक परिवार में एक नौकरी द। वहीं अन्य जातियों को इस भर्ती से बहिष्कृत करें। वाल्मीकि समाज का कहना है कि जब तक उन्हें नौकरी नहीं मिलती, उनका विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा। वहीं महिलाओं ने कहा कि अगर हमें नौकरी नहीं मिली और प्रशासन द्वारा वाल्मीकि समाज का हक़ मारा गया तो हम गढ्ढे खोद कर यहीं मार जाएंगे। हम अपने हक के लिए कुछ भी करेंगे।

Leave a comment