तेरह माह से नहीं मिला नर्मदा का पानी, फूटा किसानों का आक्रोश

जागरूक टाइम्स 386 Aug 2, 2018

- सैकड़ों किसानों ने 72 घंटों में पानी की आपूर्ति नहीं होने पर नर्मदा नहर परियोजना के रामजी का गोल सब स्टेशन पर अनशन व धरने की चेतावनी दी

धोरीमन्ना @ जागरूक टाइम्स

नर्मदा नहर परियोजना की भदराई लिप्ट कैनाल व अगड़ावा लिप्ट कैनाल की दर्जनों नहर की वितरिकाओं में पिछले तेरह महीनों से पानी नहीं छोड़ा जा रहा है। इस पर गुरुवार को उपखण्ड मुख्यालय पर सैकड़ों किसान नारेबाजी करते हुए उपखण्ड कार्यालय पहुंचे। किसानों ने उपखण्ड अधिकारी को मुख्य अभियंता नर्मदा नहर परियोजना सांचौर, जल संसाधन मंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर तीन दिन के भीतर नहर में पानी छोडऩे की मांग की। किसानों ने चेतावनी दी कि अगर तीन दिन के भीतर पानी की आपूर्ति नहीं हुई तो रामजी का गोल सब स्टेशन पर भूख हड़ताल की जाएगी।

गुड़ामालानी व धोरीमन्ना पंचायत समिति की अरणियाली, चैनपुरा, बोर चारणान, डबोई एवं भीमथल तथा गुड़ामालानी पंचायत समिति की बेरीगांव, बांटा, रामजी का गोल फांटा, पीपराली ग्राम पंचायत के गांवों को जोडऩे वाली दर्जनों नर्मदा नहर की वितरिकाओं में पानी नहीं नहीं छोडऩे से किसानों एवं मवेशियों के पीने के लिए पानी की किल्लत हो गई है। जिससे परेशानी से सामना करना पड़ रहा है।

गुरुवार को धोरीमन्ना प्रधान ताजाराम चौधरी, मार्केटिंग सोसायटी अध्यक्ष गोरधनराम विश्नोई, गोरधनराम काकड़ चैनपुरा, बोर चारणान सरपंच जयरूप भंडवाला, डबोई सरपंच दिनेश विश्नोई, नाथाराम सारण पूर्व सरपंच बांटा, भैराराम खोथ पूर्व सरपंच अरणियाली, खुमाराम बैरड़ पूर्व सरपंच पीपराली के नेतृत्व में सैकड़ों किसानों ने नारेबाजी की तथा उपखण्ड अधिकारी को नर्मदा नहर परियोजना सांचौर के मुख्य अभियंता, जल संसाधन मंत्री एवं मुख्यमंत्री के ज्ञापन सौंपकर नहर में जल्द पानी छोडऩे की मांग की। किसानों ने ज्ञापन में बताया कि पिछले साल की बरसात से इस क्षेत्र में अतिवृष्टि के कारण नहर से सिंचित क्षेत्र का भूजल स्तर खारा हो गया था तथा नहर भी जगह-जगह से टूट गइर्। जिसकी मरम्मत तो करवा दी गई, लेकिन इस बार मौसम की पहली बारिश के बाद श्रावण मास गुजरने के बावजूद बरसात नहीं हुई है। नहर में भी पिछले तेरह महीनों से पानी नहीं छोडऩे के कारण पेयजल एवं पशुओं के पीने के लिए पानी का संकट खड़ा हो गया। 

नहर के कारण जलदाय विभाग ने भी कर दी जलापूर्ति बंद

किसानों ने बताया कि गुड़ामालानी एवं धोरीमन्ना पंचायत समिति के नर्मदा नहर सिंचित क्षेत्र में नहर आने के बाद जलदाय विभाग के ट्यूबवेल से सार्वजनिक टांकों एवं जीएलआर में भी पेयजल आपूर्ति बंद कर दी है। लगातार सप्लाई बंद होने के कारण पानी के लिए बिछाई गई पाइप लाइन भी कई जगह टूट गई तो कई से बाहर निकाल दी गई है। जिसके चलते अब नहर में पानी नहीं आने से पहले से भी ज्यादा पानी का संकट आ गया है।

72 घंटे का अल्टीमेटम, पानी नहीं छोड़ा तो धरना प्रदर्शन 

किसानों ने राज्य सरकार एवं नर्मदा नहर विभाग के अधिकारियों को अल्टीमेट देते हुए कहा कि अगर 72 घंटों में नहर में पानी नहीं छोड़ा तो रामजी का गोल पंपिंग स्टेशन पर अनशन के साथ अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

Leave a comment