बाड़मेर। 11 साल बाद पाक से आई बहिन ने भाई के बांधा रक्षासूत्र

जागरूक टाइम्स 562 Aug 5, 2020

बाड़मेर। 10 माह पहले आई थी, कोरोना के कारण पाक नहीं गई सरहद पार से आई बहिन ने अपने भाई की कलाई पर 11 साल बाद राखी बांधी। पाकिस्तान से 10 माह पूर्व हिंदुस्तान आई बहिन रास्ते बंद होने की वजह से बाड़मेर में ही रुक गई थी। रक्षाबंधन पर 11 साल बाद सजी अपनी कलाई देखकर भाई की आंखे खुशी से भर आईं। पाकिस्तान के सिंध प्रांत के अमरकोट की रहने वाली दरिया कंवर ने 11 साल बाद सोमवार को अपने भाई की कलाई पर राखी बांधी। इससे पहले वह वर्ष 2009 में उसका भाई नरपत सिंह पाकिस्तान गया था तब अपने भाई को राखी बांधी थी, लेकिन फिर इन 10 सालों में वह लिफाफों से ही अपना प्यार भाई को भेज पाती थी। 10 माह पूर्व दरिया कंवर पाकिस्तान से पूरे परिवार के साथ हिंदुस्तान आ गई और फिर कोविड19 महामारी के कारण पाकिस्तान नहीं जा पाई।

सोमवार को रक्षाबंधन आया तो वह जोधपुर से अनुमति लेकर बाड़मेर पहुंची और साल 2009 के बाद वर्ष 2020 में अपने भाई की कलाई पर राखी बांधती नजर आई। भाई की कलाई पर 11 साल बाद सरहद पार से आकर राखी बांधने के इस दृश्य को देखकर हर कोई भावुक नजर आया। सोमवार को शहर के कल्याणपुरा निवासी भाई की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद भाई को होमआइसोलेट कर दिया गया। वहीं रक्षाबंधन पर राखी लेकर बहिन गीता मालू निवासी जूना किराडू मार्ग पहुंची व सोशल डिस्टेंस की पालना करते हुए घर के बाहर लगे बेरिकेड्स पर राखी बांधकर रक्षाबंधन पर्व मनाया। नियमों की पालना की व बहिन का फर्ज निभाया व भाई के जल्द स्वथ होने की कामना करते हुए रवाना हो गई।


Leave a comment