बाड़मेर की महिला की पाकिस्तान में मौत, परिजन परेशान- कैसे मिट्टी पहुंचे हिंदुस्तान

जागरूक टाइम्स 1528 Jul 27, 2018

बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

अगासड़ी गांव की एक वृद्ध महिला की बुधवार को पाकिस्तान में मौत हो गई। परिजन परेशान है कि अब महिला का शव भारत कैसे आएगा। परिजन पिछले 48 घंटों से अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं। अब परिवार को उम्मीद है कि शुक्रवार को पाकिस्तान से आने वाली थार एक्सप्रेस से महिला का शव भारत आ सकता है। जो शनिवार को मुनाबाव स्टेशन पर पहुंचती है। 

यह भी पढ़े : पेड़ से फंदा लगाकर युवक ने की आत्महत्या 

जानकारी के अनुसार अगासड़ी गांव की रेशमा (65) पत्नी राणा की एक बेटी और दो बहनें पाकिस्तान में है। बेटी का पहले इंतकाल हो गया। रेशमा 30 जून को बेटे सायबखां के साथ पाकिस्तान गई थी। उसे 28 जुलाई को वापस लौटना था, लेकिन 24 जुलाई को बुखार हो गया व 25 जुलाई को रेशमा की मौत हो गई। रेशमा के दो भाई है। एक हिंदूस्तान में, दूसरा पाकिस्तान में रहता है। दोनों भाई रेशमा को भारत लाने का प्रयास कर रहे हैंं।

मृतका का बेटा विधायक से मिला, कहा- मेरी मां का शव भारत मंगवाइए

रेशमा का दूसरा बेटा जादम शिव विधायक मानवेंद्र सिंह से मिला। जादम ने विधायक से कहा कि उसकी मां रेशमा की पाकिस्तान में मौत हो गई है। परिवार परेशानी के दौर से गुजर रहा है कि अब शव भारत कैसे लाया जाए। ऐसे में उसके परिवार की मदद की जाए और शव को भारत मंगवाया जाए।


पाकिस्तान में परिजनों का हाल बेहाल

रेशमा की मौत के बाद पाकिस्तान स्थित परिवारों के भी हाल बेहाल है। रेशमा अपनी दोनों बहनों से मिलने गई थी। बहनों के परिवारों में भी पाकिस्तान स्थित रिश्तेदार यह चाहते है कि रेशमा का शव वापस भारत जाए। ताकि उस रेशमा का शव अपने गांव में सुपुर्द-ए-खाक किया जा सके।


विधायक ने पाक में किया संपर्क

रेशमा की मौत के मामले में शिव विधायक मानवेंद्र सिंह ने पाकिस्तान में परिजनों से संपर्क किया है। विधायक का कहना है कि इमीग्रेशन से बात की है कि ट्रेन के मुनाबाव पहुंचने पर यहां एक आदमी के साथ शव को उतारा जाए।

Leave a comment