लंदन फैशन शो में छाया बाड़मेर का हस्तशिल्प

जागरूक टाइम्स 491 Jun 24, 2018

- थार की मशहूर राली को मिली नई पहचान

बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

जिले के दूर दराज गांवों में होने वाली कशीदाकारी को अब अन्तरराष्ट्रीय फैशन शो में विशेष स्थान मिलने लगा है। थार के खूबसूरत पेचवर्क, एम्ब्रोडरी के काम से बने परिधानों को ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान के सहयोग से लंदन के ग्रेज्युट फैशन वीक 2018 में रैम्प पर स्कूल ऑफ फैशन टैक्नोलॉजी की दिक्षा राठी की ओर से प्रदर्शित किया गया।

ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान के सचिव विक्रमसिंह ने बताया कि लंदन फैशन वीक के लिए संस्थान की अध्यक्ष रूमादेवी के नेतृत्व में हूनरमंद महिला दस्तकारों के समूह ने इन परिधानों को बलदेव नगर स्थित क्राफ्ट सेन्टर में तैयार किया। जो एक नए अंदाज के साथ प्रस्तुत हुए, जिसने सभी का मन मोह लिया। इस दौरान बाड़मेर की कला शिल्प व पर्यटन संबंधी प्रर्दशनी प्रदर्शित की गई, जिसको शो के दौरान विशेष सराहना मिली।

संस्थान की अध्यक्ष रूमादेवी ने शो की जानकारी देते हुए बताया कि इस शो की विशेषता हमारे घरों में बनने वाली परम्परागत राली को नए अदांज में रैम्प पर उतारा गया। राली के पैटर्न पर आधुनिक परिधान तैयार किए गए। जिसमें विभिन्न स्वयं सहायता समूहों से कुशल दस्तकारों को आंमत्रित किया गया था और इनकी रंगाई बाड़मेर की प्रसिद्ध अजरक प्रिन्ट के पैटर्न पर राणमल खत्री के सहयोग से करवाई गई। जिसमें इको-फ्रैण्डली कलर और सामग्री का उपयोग कर पूरा कलेक्शन तैयार किया गया। उन्होंने बताया कि आज के समय के अनुसार नए डिजायन व रंगों का संयोजन होने से ही वैश्विक स्तर पर हमारे हस्तशिल्पी अपनी पहचान कायम रख पाएंगे। इस दिशा में लंदन फैशन शो की सफलता हमारे हस्तशिल्प को एक नई ऊंचाइयों पर स्थापित करने में कामयाब रहा। 

संस्थान के सचिव विक्रमसिंह के अनुसार बाड़मेर के हस्तशिल्प उत्पाद नई पहचान नए अदांज के साथ अंतरराष्ट्रीय फैशन जगत में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा रहे हैं। पिछले महीने कोलम्बों फैशन वीक का ग्राण्ड फिनाले बाड़मेर के नाम रहा, जिसमें संस्थान के कुशल कारीगरों का व्हााइट ऑन व्हाइट कलेक्शन रैम्प पर आया तो अब लंदन फैशन वीक में थार की परम्परागत राली का जो नया रूप शो में दिखा वह बाड़मेर के हस्तशिल्प को नई ऊंचाइयां देगा।

Leave a comment