रोड पर दौड़ती मौत, बाल-बाल बची तीन जिंदगियां

जागरूक टाइम्स 1469 Jun 24, 2018

- जिला कलक्टर के आवास के आगे पलटा ट्रैक्टर-टैंकर

बाड़मेर @ जागरूक टाइम्स

भीषण गर्मी के साथ ही शहर सहित जिलेभर में पेयजल की किल्लत बढ़ गई है। इसके साथ ही 'जल माफिया' जिलेभर में पांव पसारने लगा है। तो दूसरी तरफ लोग अपने हलक तर करने के लिए टै्रक्टर-टैंकरों की मदद से पानी खरीदने को मजबूर है। लेकिन चांदी उगल रहे जल व्यवसाय ने एक और मर्ज को जन्म दे दिया है। कमाई बढ़ाने के फेर में टै्रक्टर चालकों ने कम समय में जलापूर्ति के लिए रफ्तार को इस कदर बढ़ा दिया है कि शहर की सड़कों पर सरपट दौड़ती मौत का अहसास होता है।

 यह बात शनिवार को उस समय सटिक साबित हो गई, जब कलेक्टर आवास के सामने ही तेज रफ्तार से दौड़ता ट्रैक्टर-टैंकर पलटी खा गई। यह तो गनीमत रही कि तीन जिंदगियां असमय लीलने से बच गई। लेकिन हैरत की बात तो यह है कि इनकी रफ्तार पर अंकुश डालने की जहमत ना तो पुलिस प्रशासन उठा रहा है और ना ही परिवहन विभाग।

दरअसल, इन ट्रैक्टर चालकों की लापरवाही पिछले कई दिनों से बढ़ गई है। ट्रैक्टर चालक तेज गति से ट्रैक्टर ड्राइव करते हैं और ब्रेकर का भी ख्याल नहीं करते। जिससे ब्रेकर या मोड़ पर अधिकतर ट्रैक्टर-टैंकर पलटी खा जाते हैं। ऐसा ही एक मामला जिला कलेक्टर आवास के ठीक सामने नजर आया। जहां तेज रफ्तार ट्रैक्टर-टैंकर पलट गया और मुख्य सड़क पर ही पानी फैल गया। गनीमत रही कि हादसे में किसी को कोई चोट नहीं पहुंची। जब ट्रैक्टर-टैंकर पलटा उस दौरान बाइक सवार एक व्यक्ति अपनी दो किशोर बेटियों के साथ महज चंद फासले की दूरी पर चल रहा था और वक्त रहते उसने अपनी बाइक को नियंत्रित कर लिया। गनीमत रही कि तीन जिंदगियां असमय लीलने से बच गईं।

ट्रैक्टर चालकों पर प्रशासन मौन

तेज रफ्तार और यातायात की धज्जियां उड़ाते हुए इन टै्रक्टर चालकों पर प्रशासन पूर्ण रूप से मौन नजर आ रहा है। पानी की सप्लाई करने वालों में कई तो नाबालिग ट्रैक्टर चालक है, जो तेज रफ्तार से टै्रक्टर चलाते शहर में सहज ही देखे जा सकते हैं। इन ट्रैक्टर चालकों के खिलाफ कई शिकायतें होने के बावजूद प्रशासन ने मौन रवैया अपना रखा है।

Leave a comment