आचार्य लोकेश अमेरिका में 'विशिष्ठ सेवा अवार्ड' से सम्मानित

जागरूक टाइम्स 140 Jul 1, 2018

पचपदरा (बाड़मेर) @ जागरूक टाइम्स
अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक मूलत: पचपदरा में जन्मे जैन आचार्य डॉ. लोकेश मुनि अमेरिका में 'विशिष्ठ सेवा अवार्ड' से सम्मानित हुए। शिकागो जैन सेंटर के रजत जयंती समारोह के दौरान ट्रस्टी मिशेल ई.कामेरेर एवं बार्टलेट इलेनॉइस के रेमंड एच. डायने, चैयरमेन अतुल शाह, अध्यक्ष विपुल शाह ने आचार्य लोकेश को सम्मान से अलंकृत किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस अवसर पर अपने वीडियो सन्देश में जैन समाज को शिकागो जैन सेंटर की रजत जयंती समारोह की बधाई देते हुए कहा कि विश्व को आध्यात्मिक और समाज सेवा प्रदान करने में जैन समाज का महत्वपूर्ण योगदान है। जैन दर्शन का शांतिपूर्ण और सद्भावनापूर्ण का दृष्टि कोण विश्व के लिए कल्याणकारी और महत्वपूर्ण है। आचार्य लोकेश मुनि ने इस अवसर पर कहा कि धर्म को समाज सेवा से जोड़कर उसे सामाजिक कुरीतियों का माध्यम बनाना वर्तमान समय की आवश्यकता है। अमेरिका व भारत दोनों में ही धर्म सदैव समाज सेवा से जुड़ा रहा है। आज विश्व जनमानस हिंसा, आतंकवाद व गरीबी जैसे विकराल समस्याओं से जूझ रहा है। अमेरिका और भारत को एकसाथ इन समस्याओं का समाधान ढूंढकर उनके खिलाफ लडऩा चाहिए। अहिंसा के मार्ग पर चलने वाला जैन समुदाय जहां भारत में अहिंसा का प्रचार कर रहा है और देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है। वहीं अमेरिका में भी अहिंसा की स्थापना और विकास के कार्यों में अग्रनीय है।

इस अवसर पर ट्रस्टी मिशेल ई.कामेरेर एवं रेमंड एच. डायने ने कहा कि भारत एक विशाल लोकतंत्र है। विश्व पटल पर यह एक उभरती हुई अर्थव्यवस्था है। आने वाले समय में भारत निश्चित रूप से एक अहम भूमिका निभाएगा। अतुल शाह एवं विपुल शाह ने कहा कि आचार्य लोकेश मुनि पिछले अनेक वर्षों से जैन धर्म और भारतीय संस्कृति का प्रचार कर विश्व शांति और सद्भावना की स्थापना में महत्पूर्ण योगदान दे रहे हैं। अमेरिका में जैन समुदाय को समय-समय पर आचार्य लोकेश मुनि का मार्गदर्शन मिलता रहता है, यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है। उन्होंने अनेक प्रतिष्ठित मंचों से भारतीय संकृति और जैन धर्म का अहिंसा, शांति और सद्भावना के सन्देश को प्रसारित कर हर भारतीय व जैन अनुयायी को गौरान्वित किया है।
उल्लेखनीय है कि पूर्व में भी आचार्य लोकेश मुनि भारत सरकार द्वारा 'राष्ट्रीय साम्प्रदायिकता सद्भ्जावना पुरस्कारÓ, संयुक्त राष्ट्र संघ में 'एम्बेसडर ऑफ पीसÓ, की टू मिल्पितास और लंदन पार्लियामेंट में 'एम्बेसडर ऑफ़ पीसÓ अवार्ड से सम्मानित हो चुके हैं। इस अवसर पर समणी मलयप्रज्ञा, समाजसेवी मफत भाई पटेल, जैन दर्शन के विद्वान ललित धामी, विधीकार नरेन्द्र नन्दू, मोटिवेशनल वक्ता राहुल कपूर, संगीतकार आशीष जैन उपस्थित थे। बच्चों युवाओं और महिलाओं ने इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया।

Leave a comment