दुल्हन के अपहरण की वारदात से राजपूत समाज में आक्रोश, कलेक्टर आवास के बाहर छह घंटे प्रदर्शन

जागरूक टाइम्स 633 Apr 18, 2019

सीकर (ईएमएस)। जिले के धोद तहसील में बुधवार तड़के विदाई के बाद मायके से ससुराल जा रही दुल्हन के अपहरण से राजपूत समाज में आक्रोश व्याप्त हो गया। गुरुवार को उदयपुरवाटी से विधायक राजेंद्र गुढ़ा के आह्वान पर सैंकड़ों की संख्या में समाज के लोग कलेक्टर आवास के बाहर इकट्ठा हो गए। यहां जाम लगाकर करीब छह घंटे तक जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रखा गया।

मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने अपहरण केस में चार युवकों को हिरासत में ले लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। लेकिन मुख्य आरोपी अंकित सेवदा और अपहरण की गई दुल्हन हंसा कंवर का कोई सुराग नहीं लगा। वारदात को 36 घंटे गुजरने पर भी पुलिस उन्हें तलाश नहीं कर सकी।

दुल्हन को बरामद करने व मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें जयपुर व गाजियाबाद भेजी गई है। इससे पहले बुधवार देर रात दुल्हन के दिनदहाड़े हथियारों के बल पर अपहरण केस से गुस्साए विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने एसपी कार्यालय के सामने समर्थकों के सामने इकट्?ठा होकर प्रदर्शन किया था। वहीं, खुद पर बोतल में भरा केरोसिन उड़ेल लिया। विधायक राजेंद्र गुढ़ा कुछ कर पाते।

इससे पहले समर्थकों ने उन्हें काबू में कर लिया। जानकारी के मुताबिक, धोद तहसील के नागवा गांव में रहने वाले गिरधारी सिंह की दो बेटियों सोनू कंवर और हंसा कंवर की शादी मोरडूंगा गांव निवासी भंवर सिंह और राजेंद्र सिंह के साथ मंगलवार को हुई।

बुधवार को फेरों की रस्म पूरी होने के बाद बाराती अपने गांव के लिए रवाना हो गए। इसके कुछ देर बाद बुधवार तड़के 3 बजे दोनों दुल्हन बहनें एक इनोवा कार में अपने दुल्हों के साथ मायके से ससुराल के लिए रवाना हुई। मोरडूंगा गांव से 4 किलोमीटर दूर रामबक्शपुरा स्टैंड के पास डंडे व सरियों से लैस बदमाशों ने इनोवा कार को घेर लिया इसके बाद बदमाशों ने लाठी-सरियों से जमकर दुल्हन की कार में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। एकाएक हुए हमले से गाड़ी में बैठे दूल्हा-दुल्हन सहम उठे।

इसके बाद बदमाशों ने पिस्टल निकालकर धमकियां दी और फिर हथियारों के बल पर इनोवा में सवार दुल्हन हंसा कंवर को जबरन कार से खींचकर बाहर निकाला इसके बाद अपहरण कर अपने साथ गाड़ी में उठाकर भाग निकले। घटना के बाद हंसा की बहन सोनू कंवर और उसके पति ने परिजनों को सूचना दी। सूचना मिलने पर पुलिस उच्चाधिकारी मौके पर पहुंचे। नाकाबंदी करवाई। उधर, दुल्हन के खबर फैलते ही राजपूत समाज में आक्रोश व्याप्त हो गया।


Leave a comment