त्रिवेणी नदी में कार्तिक स्नान के लिए आए पांच बच्चे डूबे, तीन की मौत

जागरूक टाइम्स 162 Nov 13, 2019
भीलवाड़ा(ईएमएस)। बीगोद के पास त्रिवेणी संगम पर मंगलवार को कार्तिक पूर्णिमा का स्नान करने आए परिवारों के 5 बच्चे डूब गए। एक लड़के और दो लड़कियों की मौत हो गई, जबकि 2 बच्चों को भीलवाड़ा के महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आसपास गांवों से पूर्णिमा पर कार्तिक स्नान करने हजारों श्रद्धालु मंगलवार को बनास-मानसी और बेड़च नदियों के संगम स्थल त्रिवेणी पहुंचे। यहां बड़ला निवासी बनवारी (12) पुत्र रामेश्वरलाल सालवी, उदलियास निवासी रानू (13) पुत्री शंभू सेन और बड़ला निवासी सांवरी (11) पुत्री उदयलाल सालवी, बड़ला की ही सीमा (13) पुत्री प्रभुलाल सालवी और उदलियास निवासी खुशबू (11) पुत्री शंभू सेन नहा रही थी।

नहाने के दौरान ये बच्चे गहरे पानी में जाने से डूब गए। लोगों ने वहां तैनात बीगोद थाने के हैड कांस्टेबल गोपाललाल को इसकी सूचना दी। हैड कांस्टेबल ने तत्काल ही संगम में छलांग लगाकर रानू को निकाला। उसकी कुछ समय में मौत हो गई। वहीं एक अन्य व्यक्ति और गोताखोरों ने दूसरे बच्चों को बाहर निकाला। सोनू का शव मांडलगढ़ अस्पताल भिजवाया, जबकि अचेतावस्था में सीमा, खुशबू और बनवारी को भीलवाड़ा रैफर कर दिया।

भीलवाड़ा अस्पताल में बनवारी की भी मौत हो गई। बनवारी का शव पोस्टमार्टम के लिए बीगोद अस्पताल भिजवा दिया गया। दूसरी ओर, दोपहर में एक बालिका सांवरी सालवी का शव भी गोताखोरों ने निकाल लिया। पुलिस ने तीनों शवों का पोस्टमार्टम करवाया। इधर, स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के जुटने के बावजूद प्रशासन की ओर से त्रिवेणी संगम पर प्रशासन का कोई अधिकारी भी मौके पर नहीं था।

Leave a comment