वर्तमान में संभव नहीं एक देश एक चुनाव : नीतीश

जागरूक टाइम्स 74 Aug 14, 2018

पटना । बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 'वन नेशन वन इलेक्शन' के विचार का समर्थन का करते है पर उनका साफ मानना है कि इस बार के लोकसभा चुनाव में ऐसा मुमकिन नहीं है। गौरतलब है कि बिहार विधानसभा का कार्यकाल पूरा होने में अभी दो वर्ष बाकी हैं। पटना में बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने मीडिया से इस मुद्दे पर कहा कि इस इलेक्शन में यह संभव नहीं है कि लोकसभा और सभी विधानसभा का चुनाव एक साथ कराया जाए, यह संभव नहीं है। वैचारिक रूप से यह सही है।

इस मसले पर मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) ओपी रावत की टिप्पणी भी सामने आ गई है। ओपी रावत ने कहा है कि वर्तमान परिदृश्य में पूरे देश में एक साथ चुनाव संभव नहीं है। मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि अगर चरणबद्ध तरीके से चुनाव कराए जाएं, तो कई राज्यों के चुनाव आम चुनावों के साथ संभव हैं। चुनाव आयुक्त ने कहा कि देश में पहले चार चुनाव एक साथ ही हुए थे। अगर कानून में संशोधन हो, मशीनें पर्याप्त हों और सुरक्षाकर्मी जरूरत के हिसाब से हों, तो ऐसा संभव है। इससे पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को विधि आयोग को पत्र लिखकर कहा कि देश हर वक्त चुनाव के मोड में नहीं रह सकता है।

यह भी पढ़े : गांगावा माताजी दर्शनार्थ जाते श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली पलटी, सोलह घायल

ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि पार्टी अगले साल लोकसभा चुनाव के साथ 10-11 राज्यों के विधानसभा चुनाव एकसाथ कराने के प्रयास कर रही है। जिन राज्यों में चुनाव कराने के कयास लगाए जा रहे हैं उनमें से ज्यादातर भाजपा शासित राज्य हैं। बता दें कि इस साल के आखिर में भाजपा शासित तीन राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने हैं।

तीनों राज्यों के चुनाव को टालकर 2019 में लोकसभा चुनाव के साथ ही कराए जाने के कयास हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि बिहार विधानसभा के चुनाव भी समय से पहले कराए जा सकते हैं। यहां की विधानसभा का कार्यकाल 2020 के अंत तक है। नीतीश कुमार की अगुआई वाली जेडीयू सरकार में भाजपा सहयोगी है।

Leave a comment