महिला वेटर से बलात्कार के दोषी को मिली दस साल की सजा

जागरूक टाइम्स 72 May 24, 2018
ठाणे । पिछले साल यानि 2016 में एक महिला वेटर के साथ मारपीट और बलात्कार करने के जुर्म में एक व्यक्ति को अदालत ने दोषी ठहराया और उसे दस साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है. अतिरिक्त सत्र न्यायधीश एस सी खालिपे ने दोषी अजय चौरसिया (33) पर 15 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है. न्यायाधीश ने अपने आदेश में कहा कि जुर्माने की यह राशि पीड़ित वेट्रेस को दी जाएगी. अधिवक्ता वंदना जाधव ने अदालत को बताया कि चौरसिया यहां उपवन के उस महिला बार में जाया करता था जहां पीड़िता काम करती थी और वह दोनों एक दूसरे को जानते थे. जाधव ने बताया कि जब पीड़िता 13 और 14 अगस्त की मध्यरात्रि में कार से अपने घर जा रही थी तब चौरसिया ने उसका पीछा किया. उसने बलपूर्वक पीड़ित की गाड़ी रोकी और उसे होटल ले गया जहां उसने उसे चमड़े की बेल्ट से पीटा और उसका बलात्कार किया. पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की संबद्ध धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था और बाद में चौरसिया को गिरफ्तार कर लिया. जबकि बचाव पक्ष के वकील दरम्यां बिष्ट ने सभी आरोपों को खारिज किया. हालांकि न्यायाधीश ने चौरसिया को आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार), 323 (चोट पहुंचाना), 354 (डी) (पीछा करना) और 342 (जबरन रोकना) के तहत दोषी माना और उसे 10 साल कड़े कारावास की सजा सुनाई.

Leave a comment