कितनी और जानें लेंगी केडीएमसी की खराब सड़कें ?

जागरूक टाइम्स 165 Jul 13, 2018

- फिर गड्ढे ने ली युवक की जान, अबतक पांच की मौत

कल्याण । सड़क पर गड्ढे या गड्ढों में सड़क!! मुंबई और आसपास के इलाकों में हर बारिश में ये सवाल उठता है. हर साल गड्ढा मुक्त सड़क का वादा किया जाता है, लेकिन बारिश होते ही वादे बह जाते हैं और जानलेवा गड्ढे हादसों को न्योता देने लगते हैं. मुंबई से सटे कल्याण में गड्ढों की वजह से इस बारिश के मौसम में अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है. जी हाँ, १३ जुलाई शुक्रवार को तड़के 4:30 बजे कल्याण पश्चिम के गंधारी पुल के पास २६ साल का कल्पेश जाधव स्कूटी से काम पर जा रहे थे, तभी उनकी स्कूटी फिसल गई और कल्पेश गड्ढे में गिर गए.

पीछे से आ रहे कंटेनर ने उन्हें रौंद डाला जिससे कल्पेश की मौके पर ही मौत हो गई. बता दें कि कल्याण-डोंबिवली मनपा क्षेत्र में अब तक सड़क पर गड्ढों के चलते यह पांचवीं मौत है. कल्पेश भिवंडी के नांदकर गांव में रहता था और उसका मटेरियल सप्लायर का व्यवसाय था. बता दें कि इससे पहले 11 जुलाई को कल्याण के मलंग रोड से जा रहे अन्ना नामक एक बुजुर्ग व्यक्ति का पैर अचानक गड्ढे में पड़ गया जिससे बुजुर्ग बीच सड़क पर ही गिरा गया.

ठीक उसी समय पीछे से आये ट्रक की चपेट में आगया जिससे अन्ना की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं तीसरी घटना 7 जुलाई को कल्याण पश्चिम स्थित मनपा मुख्यालय से कुछ कदम दूरी पर ही शिवाजी चौक पर घटी जब मनीषा भोईर नामक महिला की बस की चपेट में आने से मौत हो गई थी. इस हादसे की तस्वीर सीसीटीवी में कैद हो गई थी. जबकि चौथी घटना शिवाजी चौक पर ही घटी जब 2 जून 2018 को शाम 4 बजे के दरम्यान खराब सड़क के चलते एक 4 साल के मासूम ने ट्रक के नीचे आकर दम तोड़ दिया था. जबकि पांचवीं घटना रामबाग इलाके में घटी थी.

नागरिकों का कहना है कि कल्याण-डोंबिवली मनपा क्षेत्र की खराब सड़कें और कितनी जानें लेंगी? दरअसल कल्याण-डोंबिवली मनपा क्षेत्र में बद से बदतर हो चुकी खराब सड़कें जानलेवा साबित होती जा रही है, खराब सड़कों की वजह से एक के बाद एक लोगों की मौत होती जा रही है. ना जाने और कितनी जान लेगी?  


Leave a comment