धन नहीं, कामचोर अफसर हैं असली समस्या - गडकरी

जागरूक टाइम्स 71 May 24, 2018
पुणे । केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि विभिन्न परियोजनाओं के लिए धन की उपलब्धता नहीं, बल्कि ऐसे अधिकारी समस्या हैं, जो निर्धारित समयसीमा में काम पूरा नहीं कर पाते। ऐसे अधिकारियों को तो छड़ी लेकर दौड़ाना चाहिए। उन्होंने कहा कि टाउन प्लानिंग डिपार्टमेंट किसी काम का नहीं है। पुणे में कुछ परियोजनाओं की आधारशिला रखते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा मैं वित्त मंत्रालय से कभी धन की मांग नहीं करता, क्योंकि मेरे मंत्रालय के पास पर्याप्त धन है। पांच वर्षो में मैं 25 लाख करोड़ रुपये की परियोजनाएं पूरी करना चाहता हूं। 6.5 लाख करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मैं पहले ही स्वीकृत कर चुका हूं। लिहाजा मंत्रालय में धन कोई बाधा नहीं है। समस्या सिर्फ वे अधिकारी हैं, जो समय पर काम पूरा नहीं करते। गडकरी ने कहा कि ऑटोमोबाइल क्षेत्र में हो रही वृद्धि और दिन प्रतिदिन वाहनों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर सड़कों का आकार बढ़ाना आसान काम नहीं है। सड़कों की चौड़ाई बढ़ाने के लिए जमीन जुटाना एक कठिन काम है। उन्होंने कहा ऐसी स्थिति में हमें परिवहन के वैकल्पिक साधनों के बारे में सोचना होगा। जलमार्ग इसका अच्छा विकल्प हो सकता है। भविष्य में जलमार्ग ही पहली प्राथमिकता होंगे। दूसरी प्राथमिकता रेल मार्ग और अंतिम सड़क मार्ग होंगे।

Leave a comment