तल्ख संबंधों के बीच मोदी ने उद्धव को समर्थन के लिए धन्यवाद दिया

जागरूक टाइम्स 86 Aug 10, 2018

मुंबई । महाराष्ट्र सरकार और केंद्र सरकार में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सहयोगी शिवसेना ने उपसभापति चुनाव में एनडीए प्रत्याशी हरिवंश को समर्थन देकर पिछले काफी समय से दोनों दलों के बीच चली आ रही तल्खी को कम किया। शिवसेना के इस फैसले से खुश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को फोन कर समर्थन देने के लिए धन्यवाद दिया। उप-सभापति पद के लिए चुनाव से पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने उद्धव ठाकरे से फोन पर बात की थी।

शिवसेना नेता संजय राउत ने दावा किया था कि अमित शाह ने उद्धव ठाकरे से बात की और शिवसेना से समर्थन मांगा। हमने जेडीयू उम्मीदवार का समर्थन करने का फैसला लिया है। क्योंकि उप-सभापति का पद गैर-राजनीतिक है। राज्यसभा में शिवसेना के तीन सदस्य हैं। कल हुए उपसभापति चुनाव में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी हरिवंश नारायण सिंह ने 125 वोट हासिल कर जीत दर्ज की है। उन्होंने विपक्ष के उम्मीदवार बीके हरिप्रसाद को 20 वोटों से हराया।

शिवसेना ने ऐसे समय में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का समर्थन किया है, जब पिछले कुछ महीनों में उसका रवैया काफी तल्ख रहा है। संसद के मानसून सत्र की शुरुआत में शिवसेना ने अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा और वोटिंग से दूर रहकर एनडीए को झटका दिया था। शिवसेना मोदी सरकार पर किसान, भ्रष्टाचार रोक, जम्मू-कश्मीर की स्थिति को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोलती रही है।

पिछले दिनों पार्टी ने दावा किया था कि सन 2019 के चुनाव में भाजपा की हार होगी। दो अगस्त को पार्टी ने कहा था कि ''लगभग सभी राज्यों में चुनावी हवा विपक्षी गठबंधन के पक्ष में बह रही है और पिछले डेढ़ साल से लोगों ने अपना मन बना लिया है कि वे भाजपा को एक तगड़ा झटका देंगे।

शिवसेना के नेता विपक्षी दलों से भी मिलते रहे हैं। पिछले दिनों संजय राउत ने मोदी सरकार के खिलाफ मुखर रहीं टीएमसी अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की थी। शिवसेना ने पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की भी तारीख कर चुकी है। पार्टी ने कई मसलों पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का भी समर्थन किया है। उल्लेखनीय है कि शिवसेना आगे होने वाले सभी चुनाव अकेले लड़ने का ऐलान कर चुकी है।

Leave a comment