मुंबई को पानी पिलाने वाला तुलसी तालाब भरा

जागरूक टाइम्स 494 Jul 9, 2018

मुंबई। पिछले चार दिनों से मुंबई में जारी बारिश मुंबईकरों के लिए सिरदर्द बनी है, लेकिन इसी बीच बारिश की वजह से एक खुशखबरी भी मिली है। मुंबई को पानी की आपूर्ति करने वाले तालाबों में से एक तुलसी तालाब लबालब भर गया है। अब इसका पानी ओवरफ्लो हो रहा है। बीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अगर इसी तरह तालाब क्षेत्र में बरसात होती रही तो मुंबईकरों की पानी कटौती का संकट दूर हो जाएगा। पिछले वर्ष 14 अगस्त 2017 को तुलसी तालाब ओवरफ्लो हुआ था।

आपको बता दें कि इस तालाब में पानी जमा होने की क्षमता 139.17 मीटर है। गौरतलब है कि मुंबई को तुलसी तालाब सहित भातसा, मध्य वैतरणा, तानसा, विहार, मोडक सागर जैसे अन्य तालाबों से भी पानी की आपूर्ति होती है। मुंबई को हर दिन 3750 लाख लीटर यानी 375 करोड़ लीटर पानी की आपूर्ति की जाती है। सबसे अधिक भातसा तालाब से पानी की आपूर्ति की जाती है, जबकि सबसे कम पानी की आपूर्ति तुलसी और विहार जैसे तालाबों से होती है।

तुलसी बांध के जल आपूर्ति विभाग के अधिकारियों ने कहा कि पिछले दो दिनों से भारी बारिश हो रही है, तुलसी तालाब का जल स्तर बढ़ गया था और झील बहने लगी। हर बार की तरह इस बार भी तुलसी तालाब सबसे पहले भर गया। राहत वाली बात यह है कि तुलसी तालाब जुलाई के अंतिम हफ्ते तक भर जाता था लेकिन इस बार यह पहले ही सप्ताह में भर गया। तुलसी के बाद अब तानसा के भरने की बारी है।

विहार तालाब छोटा होने के कारण इसके जुलाई के आखिरी सप्ताह या फिर अगस्त महीने में भरने की संभावना है। इतनी बारिश के बाद भी अभी कई तालाब खाली पड़े हैं क्योंकि जिन इलाकों में यह तालाब स्थित हैं, वहां अपेक्षा के अनुरूप बारिश कम हो रही है। बीएमसी के जल अभियंता अशोक कुमार तावडिया का कहना है कि अभी तक मात्र 38 फीसदी पानी ही जमा हुआ है। गौरतलब है कि मुंबईकरों की साल भर प्यास बुझाने के लिए तालाबों में 14 लाख 47 हजार 363 पानी की आवश्यकता है।

सातों तालाबों में 5 लाख 50 हजार 601 एमलडी पानी उपलब्ध है। परंतु तुलसी तालाब के जैसे ही अन्य तालाब भी जल्द ही भरेंगे और पानी की समस्या दूर होगी। ऐसा अधिकारी ने कहा। पिछले तीन वर्षों में तालाबों में जमा पानी। वर्ष 2016 में 299141 एमलडी, वर्ष 2017 में 676051 एमलडी, वर्ष 2018 में 505601 एमलडी है।

Leave a comment