मराठों को आरक्षण को एक और व्यक्ति ने फंदे झूल कर दी जान

जागरूक टाइम्स 59 Jul 31, 2018

मुंबई । मराठा आरक्षण की मांग को लेकर महाराष्ट्र में एक और व्यक्ति ने खुदकुशी कर ली है। महाराष्ट्र के नांदेड जिले के धाबाद गांव के 38 वर्षीय काचरू कल्याणे नाम के एक व्यक्ति ने आरक्षण के समर्थन में अपने घर में पंखे से झूल कर फांसी लगा ली। पुलिस ने बताया कि काचरू के शव के पास मिले सूसाइड नोट में लिखा है कि वह आरक्षण के लिए मराठा समुदाय की मांग को लेकर अपनी जिंदगी खत्म कर रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि पुलिस सूसाइड नोट की प्रमाणिकता की जांच कर रही है।

उन्होंने बताया कि शव परिवार को सौंप दिया गया है और उसी दिन अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस घटना के साथ ही नौकरी में आरक्षण की मांग को लेकर मराठा समुदाय के आंदोलन के दौरान पिछले हफ्ते से लेकर अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। पुलिस ने बताया कि इस मुद्दे पर औरंगाबाद में एक व्यक्ति ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी। औरंगाबाद में प्रशासनिक सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे 28 वर्षीय प्रमोद होरे पाटिल ने ट्रेन के सामने कूद कर खुदकुशी कर ली थी।

इससे पहले दो व्यक्तियों ने पिछले हफ्ते आत्महत्या की थी जबकि वहीं एक कॉन्स्टेबल की ऑन ड्यूटी हृदय गति रुकने से मौत हो गई थी। पिछले हफ्ते औरंगाबाद में पुलिस बंदोबस्त के दौरान कॉन्स्टेबल लक्ष्मण पाटगांवकर की हृदय गति रुकने से मौत हो गई थी। इधर, मराठा संगठनों ने कहा कि उनकी आरक्षण की मांग के समर्थन में नौ अगस्त को मुंबई में एक महारैली की जाएगी। मराठा आरक्षण को लेकर उबाल एक बार फिर शुरू हो गया है।

मंगलवार को पुणे में आरक्षण को लेकर जारी आंदोलन ने हिंसक शक्ल ले ली। इसके चलते यहां चाकण इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई थी, हालांकि मामला शांत होने पर शाम को धारा 144 हटा दी गई। प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर टायर जलाकर रास्ता रोका। फोटो खींच रहे 100 से अधिक लोगों के मोबाइल फोन भी तोड़ दिए। इसके अलावा 50 से अधिक वाहनों को तोड़ दिया गया। हिंसा प्रभावित इलाकों में रैपिड ऐक्शन फोर्स भेजी गई है। आंदोलन को देखते हुए पुणे से नासिक जाने वाली बस सेवाएं रद्द कर दी गईं हैं, जिसकी वजह से यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ी।

Leave a comment