महाराष्ट्र में दूसरे प्रांत के कामगारों के लिए बढ़ी परेशानी

जागरूक टाइम्स 1831 Jul 7, 2020
मुंबई (ईएमएस)। महाराष्ट्र सरकार ने बड़ा फैसला करते हुए प्रदेश में संचालित उद्योगों में नौकरी करने के लिए अब मूल निवासी प्रमाणपत्र (डोमिसाइल) को अनिवार्य किया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के लिए महाजॉब्स पोर्टल की शुरुआत करते इस संबंध में घोषणा की। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यह पोर्टल लॉन्च करते हुए कहा-यह पोर्टल नौकरी देने वालों और नौकरी चाहने वालों के बीच एक सेतु का काम करेगा। जहां कंपनियां अपनी जरूरत के श्रमिकों की जानकारी दे सकेंगी और श्रमिक अपनी योग्यता, अनुभव के साथ अपना परिचय दे सकेंगे। राज्य के उद्योग मंत्री सुभाष देसाई के अनुसार श्रमिकों को अपनी शिक्षा, अनुभव, कौशल के साथ डोमिसाइल प्रमाणपत्र की भी जानकारी देनी होगी। ठाकरे और देसाई दोनों ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान अन्य राज्यों के श्रमिक अपने घरों को चले गए थे। अब वे लौटने की इच्छा जता रहे हैं। महाजॉब्स पोर्टल पारदर्शी दरीके से उन्हें नौकरियां उपलब्ध कराने में मददगार होगा। दरअसल महाराष्ट्र सरकार का यह कदम उत्तर प्रदेश के योगी सरकार के उस कदम का जवाब माना जा रहा है जिसमें योगी सरकार ने प्रवासियों के लिए माइग्रेंट पॉलिसी बनाने एवं उनके प्रदेश के श्रमिकों की जरूरत होने पर उत्तर प्रदेश सरकार से संपर्क करने की बात कही।

Leave a comment