डिग्री बाद में दिखाना, पहले अकालपीडि़तों की सुनो : शिवसेना

जागरूक टाइम्स 30 May 24, 2018
मुंबई। केंद्र और महाराष्ट्र की सत्ता में बीजेपी की सहयोगी शिवसेना ने एक बार फिर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र सामना में छपे संपादकीय में बीजेपी और केंद्र सरकार पर जनता की अनदेखी का आरोप भी लगाया। लेख में शिवसेना ने कहा कि बीजेपी नेताओं को चाहिए कि वह प्रधानमंत्री के बीए पास होने की डिग्री और अगस्ता भ्रष्टाचार पर चर्चा बाद में कर लें, पहले महाराष्ट्र के अकाल पीडि़तों की गुहार सुनें। राज्य सरकार ने जो सूखा राहत के तौर पर 10 हजार करोड़ रुपए की मांग की थी उस पर केंद्र सरकार अमल करे। सामना में एक बार मोदी सरकार को घेरते हुए शिवसेना ने कहा कि राज्य में 5000 टैंकरों से पानी की सप्लाई की जा रही है, जिनमें से 3000 से ज्यादा टैंकर मराठवाड़ा में हैं। इससे अकालग्रस्त महाराष्ट्र टैंकरग्रस्त हो गया है। यह तस्वीर राज्य की प्रगति के लिए ठीक नहीं है। पार्टी ने केंद्र सरकार से राज्य के अधूरे बांधों को पूरा करने के लिए योजनाओं में मदद करने की अपील की और कहा कि केंद्र सरकार एक लाख करोड़ रुपए का पैकेज देकर राज्य की मदद करे। शिवसेना ने कहा, मुंबई जैसी महानगर पालिका देश को 2 लाख करोड़ रुपए हर साल देती है, उसका एक टुकड़ा राज्य को दे दिया तो भयंकर तस्वीर सहज ही बदल जाएगी।

Leave a comment