रिया ने सुशांत के डिप्रेशन की झूठी थ्योरी गढ़ी

जागरूक टाइम्स 302 Aug 7, 2020

-बिहार सरकार ने हलफनामा में दिया जवाब

मुंबई (ईएमएस)। रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह की फर्जी और गलत डिप्रेशन थ्योरी गढ़ी है। यह कहा है बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल जवाब में। राज्य की पुलिस का कहना है कि रिया और उसके परिजनों ने सुशांत सिंह राजपूत के पैसे को हड़पने का मकसद था और सुशांत की मानसिक बीमारी की झूठी कहानी तैयार की है। बता दें कि सुशांत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ पटना के एक थाने में एफआईआर दर्ज करवाई थी। बिहार सरकार की ओर से दाखिल जवाब में सुप्रीम कोर्ट को बताया गया कि सुशांत फिल्म इंडस्ट्रीज को छोड़ना चाहते थे। वो चाहते थे कि जैविक खेती करें। इसी वजह से रिया ने सुशांत ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया और धमकाया की वो सुशांत की मेडिकल रिपोर्ट मीडिया के सामने ला देगी और उसे मानसिक तौर पर बीमार साबित कर देगी और कभी फिर उसे काम नही मिलेगा।

बिहार सरकार ने हलफनामा में बताया कि 8 जून को रिया ने अपने साथ पैसे, लैपटॉप, क्रेडिट कार्ड और जूलरी लेकर चली गयी। कुछ महत्वपूर्ण कागज भी लेकर गई। मृतक सुशांत ने अपनी बहन को बताया था कि रिया ने फंसाने की धमकी दी है। पुलिस को जांच में ये भी पता चला है और मुखबिर ने बताया है कि मृतक के कोटक बैंक खाते में 17 करोड़ थे। 15 करोड़ ऐसे व्यक्ति के खाते में पैसे ट्रांसफर हुए जो सुशांत से जुड़ा नही था।सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस रिषिकेष रॉय की बेंच ने महाराष्ट्र, बिहार और सुशांत सिंह राजपूत के पिता को इस मामले में जवाब दाखिल करने को कहा था।

बॉलिवुड एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती ने पटना से मामले को मुंबई ट्रांसफर करने की गुहार लगाई हुई है जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान जवाब दाखिल करने को कहा है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि एक प्रतिशाशाली एक्टर की मौत हुई है। मुख्य मुद्दा ये है कि केस की जांच का जूरिडिक्शन क्या है। पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि एक प्रतिभाशाी कलाकार की मौत हुई है ऐसे में मौत के पीछे की सच्चाई सामने आना जरूरी है। वहीं केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि हमने बिहार सरकार के सीबीआई जांच की सिफारिश की स्वीकार कर लिया है।
सुदामा नर-वरे/ 07अगस्त 2020



Leave a comment