मुंबई में प्रधानमंत्री मोदी ने की 19 हजार करोड़ की मेट्रो

जागरूक टाइम्स 190 Sep 7, 2019

- गणपति की पूजा कर पीएम मोदी ने रखी मेट्रो की नींव

- स्‍वदेशी मेट्रो कोच का किया उद्घाटन

- इसरो के वैज्ञानिकों से प्रभावित हूं- पीएम मोदी

मुंबई, (ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को मुंबई में कई मेट्रो परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया. इससे पहले उन्होंने गणपति की पूजा अर्चना की. मुंबई पहुंचने पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने एयरपोर्ट पर पीएम मोदी की अगवानी की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स में आयोजित कार्यक्रम में मेट्रो लाइन 10, 11 और 12 की आधारशिला रखी. इसके साथ ही मेट्रो भवन का भूमि पूजन करने के साथ ही मेक इन इंडिया के तहत बने पहले स्‍वदेशी मेट्रो कोच का भी उद्घाटन किया.

प्रधानमंत्री मोदी ने कांदिवली के बानडोंगरी मेट्रो स्टेशन का यहीं से उद्घाटन किया. नए मेट्रो कोच का भी उद्घाटन किया. इसके साथ ही महामुंबई मेट्रो का विजन डॉक्यूमेंट भी रिलीज किया. पीएम मोदी ने मुंबई के पश्चिमी उपनगर गोरेगांव स्थित आरे कॉलोनी क्षेत्र में मेट्रो भवन की भी आधारशिला रखी. मेट्रो भवन की यह इमारत 32 माले की बनेगी जहां से मुंबई और मेट्रोपोलिटन रीजन की मेट्रो की 340 किमी. लंबी 14 लाइनों का नियंत्रण किया जायेगा. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ शिवेसना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे भी मौजूद थे.

बता दें कि मेट्रो लाइन -10 कुल 9.2 किलोमीटर लंबी होगी जो गायमुख (ठाणे) से शिवाजी चौक (मीरा रोड) तक के लिए प्रस्‍तावित है. इसके लिए कुल 4476 करोड़ का खर्च प्रस्‍तावित है. वहीं मेट्रो लाइन-11 12.7 किलोमीटर लंबी है जो वडाला से सीएसएमटी तक जाएगी. इसके लिए 8739 करोड़ का खर्च प्रस्तावित है. तीसरी मेट्रो लाइन-12 है जो 20.7 किलोमीटर लंबी है. यह कल्याण से तलोजा तक मेट्राे सेवा देगी. इसके लिए 4132 करोड़ का खर्च प्रस्तावित है. ये तीनों लाइन शहर के मेट्रो नेटवर्क में करीब 42 किलोमीटर से अधिक दूरी को जोड़ेंगी. इससे पहले उन्‍होंने शनिवार सुबह विले पर्ले स्थित लोकमान्‍य सेवा संघ तिलक मंदिर के पंडाल में पहुंचकर भगवान गणेश की पूजा-अर्चना की. अपने इस दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने महिलाओं के स्व: सहायता समूहों (एसएचजी) के सम्मेलन को भी संबोधित किया.

- इसरो के वैज्ञानिकों की सराहना की
प्रधानमंत्री मोदी ने मुंबई में मेट्रो परियोजनाओं की आधारशिला रखने के बादे लोगों को संबोधित किया और इसरो के वैज्ञानिकों की सराहना की. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के लोगों की सादगी और स्नेह मुझे हमेशा अभीभूत कर देता है. चुनाव प्रचार के दौरान महाराष्ट्र के अनेक शहरों में गया, आप लोगों से बात की. मुंबई में तो, जो रात में सभा हुई थी, उसकी चर्चा कई दिनों तक की गई थी. इस स्नेह के लिए, इस आशीर्वाद के लिए मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूं. उन्होंने कहा कि सबसे ऊंचे स्तर पर वो लोग पहुंचते हैं जो लगातार रुकावट के बावजूद, बड़ी से बड़ी चुनौतियों के बावजूद, निरंतर प्रयास करते रहते हैं और अपने लक्ष्य को प्राप्त करके ही दम लेते हैं.

पीएम मोदी ने कहा आज जब देश 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी के लक्ष्य की तरफ बढ़ रहा है तब हमें अपने शहरों को भी 21वीं सदी की दुनिया के मुताबिक बनाना ही होगा. इसी सोच के साथ हमारी सरकार अगले पांच साल में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर 100 लाख करोड़ रुपये खर्च करने जा रही है. बीते पांच वर्षों में ‘आमची मुंबई’ के इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधारने के लिए हमने बहुत ईमानदारी से प्रयास किया है. यहां फडनवीस जी की सरकार ने मुंबई और महाराष्ट्र के एक एक प्रोजेक्ट के लिए कितनी मेहनत की है, मैं जानता हूं. बांद्रा-कुर्ला को एक्सप्रेस हाईवे से जोड़ने वाला प्रोजेक्ट तो लाखों प्रोफेशनल्स के लिए बहुत बड़ी राहत लेकर आएगा. बीकेसी तो बिजनेस एक्टिविटी का बहुत बड़ा सेंटर है. अब यहां आना-जाना और आसान होगा, कम समय में हो पाएगा. इन सारी परियोजनाओं के लिए मैं आप सभी को बहुत-बहुत बधाई देता हूं. पीएम मोदी ने कहा ये सभी परियोजनाएं मुंबई के इंफ्रास्ट्रक्चर को नया आयाम तो देंगी हीं, यहां के लोगों के जीवन को आसान बनाने में भी मदद करेंगी.




Leave a comment