कश्मीर समस्या का समुचित समाधान निकालेंगे पीएम मोदी : फड़नवीस

जागरूक टाइम्स 386 Apr 11, 2019
मुंबई (ईएमएस)। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ने कहा उन्हें पूरा विश्वास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कश्मीर समस्या का समुचित समाधान निकालने में सफल होंगे। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की यह धमकी फिजूल है कि अगर अनुच्छेद 35 ए और 370 को संविधान से हटा दिया जाएगा, तो भारत के साथ कश्मीर का संबंध खत्म हो जाएंगे। फडनवीस ने कहा कश्मीर हमारा है और हमारा ही रहेगा।

फडनवीस ने कहा महबूबा की धमकियों का कोई अर्थ नहीं है, पचास साल से ज्यादा समय से हम ऐसी धमकियां सुन रहे हैं। हमारी सरकारों ने इन धमकियों से डरकर वहां कड़े कदम नहीं उठाए हैं। अब अलगाववादियों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की जरूरत है। मेरा विश्वास है प्रधानमंत्री मोदी कड़े कदम उठाएंगे और जिस तरह से 542 रियासतों को सरदार वल्लभ भाई पटेल ने खत्म किया था उसी तरह मोदी जी कश्मीर की समस्या का हल करेंगे।

यह पूछे जाने पर कि उनकी पार्टी भाजपा ने जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती के साथ मिलकर गठबंधन की सरकार तीन साल तक क्यों चलाई, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा हमारे अध्यक्ष अमित शाह इस पर पहले ही बयान दे चुके हैं। उस समय की जरूरत के अनुसार अलगाववादियों से महबूबा की पार्टी को दूर रखना आवश्यक था, इसलिए राजनीतिक प्रक्रिया में हमने अपने साथ जोड़ा।

इसका मतलब यह नहीं कि अगर वह अलगाववादियों के साथ जाएंगी तब भी हम उनका साथ देंगे। यही वजह है कि हमने गठबंधन खत्म कर सरकार गिरा दी। राजनीति अपनी जगह है, सरकार आएंगी-जाएंगी पर कश्मीर हमारा है, हमारा ही रहेगा। अगर कश्मीरी बिना किसी रुकावट के मुंबई में जमीन खरीद सकते हैं, तो कोई भारतीय कश्मीर में क्यों जमीन नहीं खरीद सकता? कुछ मामलों में कश्मीरियों को ज्यादा तवज्जो और अधिकार देना चाहिए, यह बात ठीक है, परन्तु अगर कोई कहेगा कि हम कश्मीर को भारत से अलग करेंगे तो उसका यह सपना कभी पूरा नहीं होगा, हम कश्मीर को अलग नहीं होने देंगे। अनुच्छेद 35 ए और 370 को संविधान से हटाने के भाजपा के वादे पर फडणवीस ने कहा हम एक ऐतिहासिक गलती को सुधारने जा रहे हैं।

इस ऐतिहासिक गलती को सुधारने की मांग पहले किसी ने नहीं की थी। जब देश में सरदार पटेल के नेतृत्व में 542 रियासतें भारत में बिना किसी शर्त के शामिल हुईं, तो कश्मीर के लिए अलग दर्जा क्यों दिया गया। भगवा आतंकवाद के मुद्दे पर फडणवीस ने कहा मैं तो यह मानता हूं कि हिंदू कभी आतंकवादी हो ही नहीं सकता और जो आतंकवादी है, वे कभी हिंदू नहीं हो सकते, क्योंकि हिंदुत्व की परिभाषा सहिष्णुता है।

दुनिया ने जिनको त्यागा उनको भारत ने पनाह दी। हिंदुत्व सहिष्णुता का दूसरा नाम है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री फडनवीस ने कहा कि मैं मांग करता हूं कि कांग्रेस अपने घोषणापत्र में संशोधन करके और देशद्रोह कानून को बरकरार रखने का आश्वासन दे। फडणवीस ने दावा किया कि भाजपा-शिवसेना गठबंधन महाराष्ट्र की सभी 48 लोकसभा सीटों पर जीतेगी। यही नहीं यह गठबंधन अक्टूबर में होनेवाले विधानसभा चुनाव में भी भारी बहुमत से सत्ता में लौटेगा।

उन्होंने भाजपा-शिवसेना गठबंधन को 'स्वाभाविक गठबंधन' बताया कि जबकि कांग्रेस-राकांपा गठजोड़ की आलोचना करते हुए उसे 'अवसरवादी गठजोड़' बताया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री फडणवीस ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे को 'फ्रस्ट्रेटेड पॉलिटिशियन' बताया और कहा कि कांग्रेस-राकांपा गठबंधन उन्हें 'मैन्यूपुलेट' कर रहा है।

Leave a comment