स्वाभिमानी लोगों के रहने के लिए अब सुरक्षित नहीं रही मुंबई

जागरूक टाइम्स 360 Aug 3, 2020

मुंबई(ईएमएस)। सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने सोमवार को ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि सुशांत का केस जिस तरह से हैंडल किया जा रहा है, उस हिसाब से मुंबई अब रहने के लिए सुरक्षित नहीं है। अमृता फडणवीस ने अपने ट्वीट में लिखा, जिस हिसाब से सुशांत सिंह राजपूत के मौत के मामले को हैंडल किया गया, मुझे लगता है कि मुंबई ने अपनी इंसानियत खो दी है और अब ये शहर मासूम, स्वाभिमानी लोगों के रहने के लिए सुरक्षित नहीं है।

इसके पहले पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस समेत भाजपा के कई नेता इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपने की मांग कर चुके हैं। साथ ही मुंबई पुलिस की जांच पर सवाल उठाए हैं और उद्धव सरकार को मंशा को भी कटघरे में खड़ा किया है। महाराष्ट्र बीजेपी के अलावा बिहार सरकार के कई मंत्रियों ने भी इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपने की अपील की है, कई सांसदों ने इस बारे में गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखी है। बिहार पुलिस के द्वारा मुंबई पुलिस पर मामले में सहयोग ना देने का आरोप भी लगाया गया। बीते दिन ही बिहार से आए पटना सिटी एसपी विनय तिवारी को क्वारनटीन में भेज दिया गया, जिसके कारण वो जांच को आगे नहीं बढ़ा पाए। इसपर बिहार सीएम नीतीश कुमार ने भी कहा है कि जो हुआ वो ठीक नहीं हुआ है।


Leave a comment