मुंबई : बेस्ट की हड़ताल 5 वें दिन भी जारी

जागरूक टाइम्स 73 Jan 12, 2019

मुंबई (ईएमएस)। मुंबई में सोमवार की आधी रात से हड़ताल पर गए बेस्‍ट के 33 हजार से अधिक कर्मचारियों की हड़ताल शनिवार को भी जारी रही और सभी २७ डिपो से बेस्ट की बसें बाहर सड़क पर नहीं निकली. इस हड़ताल के कारण मुंबई के जनजीवन पर गहरा असर पड़ा है. दोनों ओर से तनातनी ऐसी है कि बेस्ट की यूनियन और प्रशासन के बीच हो रही बैठक असफल होती रही है, जिसका खामियाजा मुंबईकरों को पिछले ५ दिनों से भुगतना पड़ रहा है. महाराष्ट्र सरकार की ओर से राज्य के मुख्य सचिव डी.के.

जैन की अध्य्क्षता में शनिवार सुबह मंत्रालय में बेस्ट की यूनियन के साथ बैठक बुलाई गई थी जिसमें कोई नतीजा नहीं निकला. बेस्ट कामगार कृति समिति के अध्यक्ष शशांक राव ने कहा कि जबतक सभी मांगे नहीं मान ली जाएगी और लिखित में नहीं दिया जायेगा तबतक हड़ताल वापस नहीं लिया जायेगा. बताया जा रही है कि कर्मचारियों की वेतन वृद्धि की मांग मान ली जाती है तो बेस्ट को वर्षभर में ५४० करोड़ रूपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा. इसके लिए बेस्ट बसों का किराया बढ़ाना बेस्ट प्रशासन के लिए मज़बूरी हो जाएगी.

वहीं किराया वृद्धि से इस बात का भी अंदेशा है कि मुसाफिरों की संख्या और कम हो जाएगी. बेस्ट पहले से ही घाटे में चल रही है. इसी बीच, बिजली आपूर्ति विभाग के कर्मचारियों के भी हड़ताल में शामिल होने की खबरें मिल रही है। इससे दक्षिण मुंबई में बिजली की सप्लाइ प्रभावित हो सकती है.

- सड़कों पर उतरी प्राइवेट बस
बेस्ट बसें ५ दिनों से मुंबई की सड़कों पर कर्मचरियों की मांगों के कारण नहीं चली हैं. ऐसें में मुंबईकरों को राहत देने के लिए प्राइवेट बस एसोसिएशन ने पहल की है. शनिवार से मुंबई की सड़कों पर स्कूल बस ऑनर्स एसोसिएशन की करीब 1000 और मुंबई बस ऑनर्स एसोसिएशन की करीब 2000 बसें मुंबई की सड़कों पर बेस्ट कि तरह सेवा देनी शुरू की है. 10 किलोमीटर की दूरी के लिए प्राइवेट बस का किराया 20 रुपये है. वहीं, यह सेवा दिव्यांग, सिनियर सिटीजन और स्कूली बच्चों के लिए मुफ्त है.

यह सभी बसें अधिकांश रेलवे स्टेशन के बाहर से चल रही है. स्कूल बस ऑनर्स एसोसिएशन के अनिल गर्ग ने कहा कि बीएसटी बसों की हड़ताल के बाद हमने यह सोचा कि हमारी प्राइवेट स्कूल की बसें हैं जिसे चलाया जा सकता है. हम सड़क पर लोगों की मदद कर रहे हैं, जिससे ऑफिस जाने वाले इन लोगों को थोड़ी राहत मिल सके. गर्ग कहते हैं कि शनिवार के दिन बहुत से स्कूल बंद रहते हैं और बहुत सारी स्कूल बसें हैं जो ऐसे ही खड़ी रहती हैं. हमने सोचा कि जब लोगों को इतनी तकलीफ हो रही है तो थोड़ी उनकी सहायता की जाए. इसलिए हमारे एसोसिएशन ने यह निर्णय लिया है.

- मोनोरेल में बढ़े 40 हजार यात्री
बेस्ट की हड़ताल देश की पहली मोनोरेल के लिए फायदेमंद साबित हो रही है. पिछले पांच दिनों में मोनोरेल के यात्रियों की संख्या बढ़ी है और इसकी कमाई में बड़ा इजाफा हुआ है. मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) के मुताबिक, 5 से 7 जनवरी के बीच मोनोरेल से 41 हजार 954 यात्रियों ने सफर किया, उनसे 2,93,416 रुपये कमाई हुई है. जबकि बेस्ट बस के हड़ताल वाले तीन दिनों में 8 से 1२ जनवरी के बीच इसके मुसाफिरों की संख्या में 4५ हजार से अधिक की बढ़ोतरी हुई है.

Leave a comment