Maharashtra CET 2021: गैर व्यवसायिक कॉलेजों में एडमिशन के लिए नहीं होगा CET

जागरूक टाइम्स 203 Aug 5, 2021

महाराष्ट्र सरकार इस वर्ष यूजी पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए कोई कॉमन एंट्रेंस टेस्ट आयोजित नहीं करेगी. उच्च शिक्षा मंत्री उदय सामंत की अध्यक्षता में 4 अगस्त 2021 को हुई संयुक्त बैठक में यह निर्णय लिया गया. राज्य सरकार ने स्पष्ट कर दिया किया है कि इस साल कोई CET आयोजित नहीं किया जाएगा. शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए प्रवेश केवल हायर सेकण्ड्री परिणामों के आधार पर होगा.

इस वर्ष महाराष्ट्र कक्षा 12 का परिणाम 3 अगस्त को घोषित किया गया था. इस वर्ष 90% से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्रों की संख्या 2020 की तुलना में ज्यादा है. ऐसे में यह सवाल था कि अब इतने छात्रों को डिग्री पाठ्यक्रमों में प्रवेश कैसे मिलेगा. 

उच्च शिक्षा मंत्री ने किया ट्वीट
इस सम्बन्ध में उदय सामंत ने एक ट्वीट में लिखा है कि, “बारहवीं कक्षा की परीक्षा के परिणाम घोषित कर दिए गए हैं. गैर-कृषि विश्वविद्यालयों से संबद्ध कॉलेजों के प्रथम वर्ष में बारहवीं कक्षा के अंकों के आधार पर प्रवेश होगा. इसके लिए कोई कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (CET) आयोजित नहीं किया जाएगा। ” उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने 12वीं कक्षा की परीक्षा में प्राप्त परिणामों के आधार पर कला, विज्ञान और वाणिज्य स्ट्रीम में यूजी पाठ्यक्रमों में प्रवेश पर विचार करने का निर्णय लिया है.

99.63% रहा पास प्रतिशत
महाराष्ट्र के उच्च शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने कहा कि विश्वविद्यालय इस बात का ध्यान रखे कि कोई भी छात्र प्रवेश से वंचित न रहे. महाराष्ट्र राज्य बोर्ड ने इस साल 99.63 प्रतिशत पास प्रतिशत हासिल किया है, जो पिछले वर्षों की तुलना में अब तक का सबसे अधिक है. 95 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्रों की संख्या 1372 है.

प्रवेश मिलने में हो सकती है मुश्किल
इस वर्ष एचएससी परिणाम के अनुसार, छात्रों को मुंबई, पुणे और नागपुर विश्वविद्यालय के प्रसिद्ध कॉलेजों में प्रवेश पाने में मुश्किल हो सकती है. ताजा जानकारी के अनुसार, कॉलेज प्रवेश के लिए कोई सीईटी नहीं होगा. हालांकि, राज्य सरकार जल्द ही कॉलेज प्रवेश पर एक विस्तृत नोटिस और दिशानिर्देश जारी कर सकती है.

Leave a comment