फडणवीस सरकार ने बाढ़ से निपटने के लिए केन्द्र सरकार से मांगे 6800 करोड़

जागरूक टाइम्स 130 Aug 13, 2019

मुंबई (ईएमएस)। महाराष्ट्र के कई जिलो में लगातार हो रही बारिश ने फडणवीस सरकार की मुसीबत बढ़ा दी है। पुणे, नासिक, सांगली और कोल्हापुर जैसे जिले जलमग्न हो गए है। इसमें महाराष्ट्र के बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास के लिए राज्य की फडणवीस सरकार केंद्र से मदद मांगने की तैयारी कर रही है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार को कहा कि सरकार एक ज्ञापन भेजकर केंद्र सरकार से 6800 करोड़ की मदद मांगेगी। फडणवीस सरकार ने जानकारी दी कि कोंकण, नासिक और उर्वरित महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित हिस्सों के लिए 2105 करोड़ की मांग की गई।

जबकि कोल्हापुर, सांगली और सतारा के बाढ़ प्रभावितों के लिए 4700 करोड़ की मांग की जाएगी। मवेशियों के नुकसान की भरपाई स्थानीय सरपंच के आंकलन के आधार पर की जाएगी। बाढ़ से जिन लोगों के घरों को नुकसान हुआ है उन्हें बनाने में राज्य सरकार मदद करेगी। उधर,बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए फडणवीस कैबिनेट के मंत्रियों ने एक महीने की तनख्वाह दान करने का फैसला लिया है। बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए मुख्यमंत्री ने नेवी, एयरफोर्स और एनडीआरएफ सहित तमाम एजेंसियों का शुक्रिया अदा किया।

बता दें कि महाराष्ट्र में बाढ़ से मरनेवालों की संख्या 43 पहुंच गई हैं। अभी तीन लोग लापता बताए जा रहे हैं। महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित सांगली, कोल्हापुर, सतारा, पुणे और सोलापुर में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। बाढ़ प्रभावित 584 गांवों से अबतक 474226 लोगों को निकालकर सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा चुका है। बाढ़ प्रभावितों के रहने के लिए 596 अस्थाई शिविर बनाए गए हैं।


Leave a comment