सूरत शहर की ’सूरत’ निखरेगी

जागरूक टाइम्स 313 May 24, 2018
भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम (IRSDC), गुजरात राज्य सड़क परिवहन निगम (GSRTC) तथा सूरत महानगर पालिका (SMC) के संयुक्त तत्वावधान में सूरत स्टेशन को मल्टी मॉडल ट्रांसर्पेटेशन हब के रूप में विकसित करने से सम्बंधित चर्चा करने के लिये 3 मई 2016 को चर्चगेट स्थित पश्चिम रेलवे प्रधान कार्यालय में प्री-एप्लीकेशन सम्मेलन आयोजित किया गया। इस सम्मेलन में पश्चिम रेलवे के प्रधान मुख्य इंजीनियर श्री एस एन अग्रवाल, भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री संजीव कुमार लोहिया, गुजरात राज्य सड़क परिवहन निगम के उपाध्यक्ष श्री पंकज कुमार तथा इस कार्य क ाट पूर्ण करने के लिए सक्षम बोलीदाता उपस्थित थे। यह उल्लेखनीय है कि सूरत स्टेशन को मल्टी मॉडल ट्रांसर्पेटेशन हब (एम एम टी एच) के रुप में DBFOT आधार पर विकसित करने के लिए भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम (IRSDC), गुजरात राज्य सड़क परिवहन निगम (GSRTC) तथा सूरत महानगर पालिका (SMC) इच्छुक है। यह परियोजना स्पेशल परपज वेहिकल (एस पी वी) जैसे संयुक्त उपक्रम के रुप में पूर्ण की जायेगी जिसे एक आम आदमी को लाभान्वित करने के लिये प्रस्तावित किया गया है। इस परियोजना के अंर्तगत रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास, गुजरात राज्य सड़क परिवहन निगम के बस टर्मिनल का पुनर्विकास, पूर्व-पश्चिम रोड कनेक्टिविटी, समस्त सुविधाओं का विकास, रेलवे स्टेशन एवं बस टर्मिनल में सुचारु परिचालन एवं अनुरक्षण शामिल है। यह इस प्रकार की पहली बुनियादी विकास योजना है जहां सरकार के तीनों स्तर यानि केंद्रीय (रेलवे), राज्य (गुजरात राज्य सड़क परिवहन नियम), शहरी स्थानीय इकाई (सूरत महानगर पालिका) एक संयुक्त उपक्रम बना अपनी-अपनी जमीन का उपयोग कर रेल, सिटी बस सेवाएँ, ऑटो, टॅक्सी और निजी वाहन इत्यादि यातायात के विभिन्न साधनों को सम्मिलित कर इनकी निर्बध उपलब्धता के जरिये यात्रियों को अधिकतम सुविधा के साथ-साथ यात्रा का अंर्तराष्ट्रीय अनुभव उपलब्ध कराना चाहते हैं। यह एक आम आदमी के यात्रा अनुभव को एक नया आयाम देगा और सुविधाओं की परस्पर व्याप्ति को कम करेगा तथा अधिकतम सुविधाओं के साथ ठोस सेवा उपलब्ध करा ’ग्राहक सर्वोपरि है’ की भावना को साकार करेगा। प्रस्तावित परियोजना के वैचारिक मास्टरप्लान पर सहमति हो गई है तथा सभी पक्ष एम एम टी एच के संयोजित विकास के लिये अपनी जमीन के उपयोग पर शैक्षणिक तौर पर राजी हो गये हैं। भारतीय रेल स्टेशन विकास निगम आने वाले नीलामी प्रक्रिया के लिए आवश्यक योग्यता को स्पष्ट करने के लिये प्रस्तावित एस पी वी के पक्ष में इच्छुक डेवलपरों/ऑपरेटरों से ’एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट’ आमंत्रित करेगा। भारत में लगभग सभी प्रमुख ड टवलेपरों को इसकी सूचना प्रेषित की जा चुकी है तथा भारतीय दूतावास को यह परियोजना का बेहद प्रचार करने के लिये कहा गया है जिससे विदेशी डेवलेपर भी इस परियोजना में सम्मिलित हो सके। यह प्री एप्लीकेशन सम्मेलन राष्ट्रीय एवं अंर्तराष्ट्रीय डेवलेपरें, इंफ्रास्ट्रक्चर फर्मों और वित्तीय पूंजीनिवेशकों जैसे सक्षम बोली लगाने वाली के हितों के लिये बहुत सहायक सिध्द होगी जो पी पी पी आधार पर इसे परियोजना को पूर्ण करने के इच्छुक हैं। पहली प्री एप्लिकेशन सम्मेलन पश्चिम रेलवे के सम्मेलन कक्ष में आयोजित हुआ जिसमें 12 प्रमुख डेवलेपरों ने भाग लिया। इस प्रक्रिया को जारी रखते हुए अगला सम्मेलन 13 मई, 2016 को सूरत में 11.30 बजे सूरत महानगर पालिका के सम्मेलन कक्ष में आयोजित होगा जिसके आयोजन के बाद इच्छुक डेवलपरों को साइट विजिट कराई जायेगी। इस परियोजना से सम्बोधित ताजा अपडेट वेबसाइट www.irsdc.com और ट्विटर हैंडल @irsdcinfo पर देखे जा सकते हैं।

Leave a comment