अन्नपूर्णा दूध योजना, प्रभावी क्रियान्विति सुनिश्चित करें : नकाते

   Posted Date : 6/13/2018 7:28:34 PM

बाड़मेर। जिले के सभी राजकीय प्राथमिक, उच्च प्राथमिक विद्यालयों एवं मदरसों मे कक्षा 1 से आठवीं तक के विद्यार्थियों को दो जुलाई से सप्ताह मे तीन दिन अन्नपूर्णा दूध योजना मे ताजा गर्म दूध उपलब्ध कराया जाना है। अन्नपूर्णा दूध योजना की प्रभावी क्रियान्विति सुनिश्चित करने के लिए समुचित तैयारियां की जाए। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मे अन्नपूर्णा दूध योजना संबंधित बैठक के दौरान के यह बात कही। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि शिक्षा विभाग आवश्यक तैयारियां समय पर पहले करें। ताकि, योजना के क्रियान्वयन मे किसी तरह की दिक्कत नहीं हो। उन्होने कहा कि इसमे किसी तरह की कौताही नहीं बरती जाए। साथ ही कौताही बरतने पर संबंधित अधिकारी की व्यक्तिगत जिम्मेदारी निर्धारित की जाएगी।

उन्होने कहा कि विद्यालयो मे दूध की आपूर्ति के लिए सरस डेयरी से अनुबंध कर गुणवत्तायुक्त दूध की उपलब्धता के लिए आवश्यक इंतजाम समय पर करें। जिला कलक्टर नकाते ने मिड-डे-मील की भांति प्रार्थना सभा के बाद बच्चों को गर्म एवं निर्धारित मात्रा मे दूध उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होने दूध की जांच की जिम्मेदारी एक अध्यापक को सौंपने तथा नियमित रूप से दूध चखने तथा गुणवत्ता की जांच करने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि गांवो मे दूध सप्लाई के लिए महिला सहकारी समितियों अथवा सरस के दूध संकलन केन्द्रों से अनुबंध कर गुणवत्तायुक्त दूध की सप्लाई सुनिश्चित की जाए।

उन्होने विद्यालयो मे कोल्ड चैन सिस्टम के लिए रखरखाव के लिए फ्रिज खरीदने के प्रस्ताव तैयार करने, शहर मे सरस डेयराी एवं गांवों मे समितियों से दूध क्रय करने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि जिले के ऐसे सभी विद्यालय जहां पर अन्नपूर्णा दूध योजना के तहत दूध सप्लाई होना है, उसकी जांच लेक्टोमीटर से आवश्यक रूप से की जाए। मुख्य कार्यकारी अधिकारी एमएल नेहरा ने अन्नपूर्णा दूध योजना की शुरुआत के समय जन प्रतिनिधियों एवं गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। दूध की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के साथ स्वच्छ बर्तनों का इस्तेमाल किया जाए।

Visitor Counter :