पूनम यादव को कारण बताओं नोटिस, निलंबित

   Posted Date : 5/5/2018 7:13:36 PM

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के वाराणसी की रहने वाली वेटलिफ्टर पूनम यादव की मुश्किलें बढ़ गई हैं. इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन ने अनुशासनहीनता करने पर पूनम यादव को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. साथ ही फेडरेशन ने उनको अस्थायी रूप से निलंबित भी कर दिया है. इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन के मुताबिक वेटलिफ्टर पूनम यादव पर यह कार्रवाई उनकेे बिना बताए कैंप से घर जाने पर की गई है. बता दें गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में पूनम यादव ने देश के लिए गोल्ड जीता था.इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन के अनुसार कैंप में पूनम की वापसी अब तभी हो सकेगी जब मामले में उनका जवाब संतोषजनक पाया जाएगा. फेडरेशन का कहना है कि अनुशासनहीनता के मामले में फंसने के कारण अब उन्हें खुद ही अपना डोप टेस्ट कराना होगा.

इस डोप टेस्ट के परिणामों की समीक्षा करके ही उन्हें कैंप में शामिल किए जाने के बारे में विचार किया जाएगा. वेटलिफ्टर पूनम यादव के अनुशासनहीनता के इस मामले में फंसने का कारण इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन का एक आदेश है. फेडरेशन ने पिछले दिनों गोल्ड कोस्ट से लौटने के बाद यह आदेश दिया था कि कोई भी वेटलिफ्टर घर नहीं जाएगा. साथ ही फेडरेशन ने कहा था कि सभी खिलाडिय़ों को एनआईएस पटियाला में चल रहे कैंप में रिपोर्ट करनी होगी. इसके बावजूद पूनम यादव कैंप जाने के बजाय वाराणसी स्थित अपने घर चली गईं. इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन ने पूनम यादव की इस अनुशासनहीनता पर कड़ी नाराजगी जताई है.

फेडरेशन के सेक्रेटरी जनरल सहदेव ने इस मामले में कहा है कि एशियाड की तैयारियों को ध्यान में रखते हुए खिलाडिय़ों को घर न जाने का आदेश दिया गया था. सभी खिलाडिय़ों को महज राष्ट्रमंडल खेलों के सम्मान समारोह में जाने की इजाजत थी. लेकिन वेटलिफ्टर पूनम यादव ने अपनी मर्जी दिखाते हुए कैंप में शामिल नहीं हुईं. इसलिए उन्हें नोटिस जारी किया गया है और अस्थाई रूप से निलंबित कर दिया गया है. सहदेव का कहना है कि गोल्ड कोस्ट में गोल्ड जीतने वाले सभी खिलाड़ी कैंप में मौजूद हैं इसलिए पूनम को छूट देने की कोई बात ही नहीं बनती.

Visitor Counter :