पावापुरी मे आज होगें 18 अभिषेक एवं निकलेगा वरघोडा

   Posted Date : 3/28/2018 7:44:15 PM

सिरोही। श्री पावापुरी तीर्थ जीव मे़त्रीधाम मे कल चेत्रसूदी तेरस को आचार्या श्री रविशेखर सूरीश्वर म सा की पावन निश्रा मे भगवान महावीर के जन्म कल्याण पर सवेरे 8 बजे वरघोडा निकाला जावेगा ओर 18 अभिषेक से जन्मोत्सव  गाजते बाजते मनाया जावेगा। तीर्थ के मेनेजिंग ट्रस्टी महावीर जैन ने बताया कि यात्रिक भवन से नवपद ओली आराधना मे लीन 381 तपस्वी चर्तुविद संघ के साथ शोभा यात्रा के रूप मे रवाना होकर चैमुख पावापुरी जल मंदिर पहुचेगें जहा आचार्य श्री के मार्गदर्शन मे विधिकारक विरल भाई विधिपूर्वक जलाभिषेक करायेगें।

आचार्य श्री की पावन निश्रा मे पन्यास प्रवर ललितशेखर विजयजी  गुरूवार को दोपहर मे मूलनायक श्री शंखेश्वर पाश्र्वनाथ जिनालय मे भी सभी भगवान के अठारह अभिषेक करवायेगे।  वरघोडे मे इन्द्रध्वज, चांदी का रथ, घोडे, 14 सपने, पालणा एवं श्रावक शामिल होगें। आचार्य श्री रविशेखरसूरी से बुधवार को पावापुरी तीर्थ के संस्थापक के पी संघवी परिवार के प्रमुख किशोर एच. संघवी ने मिलकर उन्हे तीर्थ की गतिविधियों एवं 18 वर्षो की उपलब्ध्यिो से अवगत कराया ।

आचार्य श्री ने उनको आशीर्वाद देते हुए कहा कि संघवी परिवार ने राजस्थान मे एक ऐसा तीर्थधाम व गौशाला बनाई है जहां आने वाला हर व्यक्ति कुछ न कुछ प्रेरणा लेकर ही जाता है। यह अकेला तीर्थ अद्भूत स्थल है भगवान महावीर के सिद्धान्तो को आगे बढाने मे इस तीर्थ की एक महती भूमिका है। यहां यह उल्लेखनीय है कि पावापुरी तीर्थ का मूल स्थान बिहार मे है ओर वहां पर जो जिनालय है उसी के अनुरूप यहा पर भी भगवान महावीर का चैमुखा जलमंदिर  का निर्माण 2009 मे के पी संघवी परिवार ने स्व़़द्वव्य  से बनवा कर उसकी प्रतिष्ठा करवाई है।

Visitor Counter :