दूध में मिलावट करने वालों को होगी ३ वर्ष की सजा, जल्द ही बनेगा कानून

   Posted Date : 3/13/2018 7:21:48 PM

मुंबई। सरकार दूध में मिलावट की घटनाओं को रोकने के लिए इससे जुड़ा कानून  कड़ा करने की तैयारी में है। दूध में मिलावट करने वालों को मौजूदा छह हीने से बढ़ाकर तीन साल से लेकर आजीवन कारावास तक की सजा देने से जुड़ा प्रस्ताव विधि व न्याय विभाग के पास भेजा गया है। उसे चार महीनों के भीतर कानूनी सलाह देने को कहा गया है।

अन्न व नागरिक आपूर्ति मंत्री गिरीश बापट ने विधानसभा में यह जानकारी दी। भाजपा के अमित साटप, मनीषा चौधरी, कांग्रेस के विजय वडेट्टीवार, राधाकृष्ण विखेपाटील आदि सदस्यों ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के जरिए दूध में मिलावट के मुद्दे पर सदन का ध्यान खींचा था। जवाब में मंत्री बापट ने बताया कि विधि व न्याय विभाग से सलाह मिलने के बाद कैबिनेट में मंजूर कर उसे कानून में बदला जाएगा। राज्य सरकार ने मिलावट के खिलाफ कानून कड़ा करने से जुड़ा प्रस्ताव राज्य सरकार के पास भेजा था।

इसके जवाब में केंद्र ने कहा कि ओडिशा, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों ने ऐसे अपराधों के खिलाफ स्वतंत्र कानून बनाया है। कई राज्यों ने मिलावट करने वालों के खिलाफ आजीवन कारावास की सजा का भी प्रावधान किया है। महाराष्ट्र सरकार भी तीन साल से आजीवन कारावास तक की सजा का प्रावधान करेगी। बापट ने जानकारी दी कि फिलहाल दूध में मिलावट करने वालों को आईपीसी की धारा 272 से 276 तक केवल छह महीने की सजा दी जा सकती है। इसलिए आरोपियों को आराम से जमानत मिल   जाती है। इसीलिए अब मिलवट करने वालों के खिलाफ गैरजमानती और कड़ा कानून बनाने का फैसला किया गया है।

Visitor Counter :