डाॅ. भीमराव अम्बेंडकर एक देश प्रेमी गरीबों के भक्त थे

   Posted Date : 12/6/2017 6:40:33 PM

आहोर  : आहोरा उपखण्ड मुख्यालय पर डाॅ. अम्बेंडकर सेवा समिति के तत्वाधान में जोधपुर रोड स्थित अम्बेंडकर सर्किल पर बाबा साहब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर का 62वां निवार्ण दिवस मनाते हुए सभा आयोजित की गई। समिति अध्यक्ष हिम्मताराम मेघवाल ने बताया कि इस मौके पर श्रद्धालुओं ने डाॅ. भीमराव अम्बेंडकर की तस्वीर पर दीप प्रज्वलित कर माल्यार्पण किया व श्रद्धा सुमन अर्पित किये। समिति के अध्यक्ष हिम्मताराम मेघवाल ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि बाबा साहब एक देश प्रेमी भक्त थे।

उसने देश के गरीबों के लिए महत्र्वपूण तीन मुलमंत्र दिये थे जो कहा कि शिक्षत बनों, संगठित रहो, संघर्ष करों, बाबा साहब के भावी-पीढी को दिशा निर्देशन एवं आरक्षण के बारे में बताया था। इसी प्रकार भंवरलाल मेघवाल पूर्व प्रधान ने भी अपने बाबा साहब के निर्वाण दिवस के उपलक्ष में विचार व्यक्त करते हुए कहा कि समाजवाद मजदुरों, किसानों, गरीबों के हितेषी और सच्चे देश भक्त थे। इस क्रम में खीमाराम परिहार, बस्तीराम, चेलाराम, सुरेश कुमार कूटल ब्लाॅक प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी आहोर ने बाबा साहब के सिद्धान्तों, उद्वेश्यों जीवनी एवं संविधान में वर्णित अधिकारों व कत्र्वयों पर विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम का संचालन हंसाराम परिहार ने किया। अन्तः में समिति अध्यक्ष मेघवाल ने सभी का आभार व्यक्त किया। अवसर पर गलबाराम राठौड, जेठूसिंह मांगलिया, मगसिंह राठौड, वचनाराम मीणा, मांगीलाल, प्रशान्त कुमार, पोपटलाल हंस, खेताराम सिंघल, कुपाराम मेघवाल, मिश्राराम सोलकी, चन्दनसिंह सहित कस्बें के गणमान्य नागरिक उपस्थित थें।

Visitor Counter :