तिहरे हत्या काण्ड, पिचावा पहुंचे आई जी घुमरीयां, हत्यारों को शीघ्र गिरप्तार करने के निर्देश

   Posted Date : 10/12/2017 7:00:20 PM

पाली : मंगलवार रात्री तखतगढ थाना क्षैत्र के पिचावा गांव के चामुण्डा माताजी मंदिर में सो रहें पुजारी, रसोया व दो रखवाले चार जनों पर अज्ञात बदमाशों द्वारा लाठियों से हमला कर तीन की हत्या व एक को गंभीर घायल करने की घटना को गंभीरता से लेते हुए आखिर देर शाम जोधपुर के पुलिस आई जी हवासिंह घुमरीयां ने पिचावा  गांव पहुंच घटना स्थल का मौका मुआयना के बाद पुलिस अधिक्षक दीपक भार्गव, अति. पुलिस अधिक्षक अताउर्रहमान खान बाली डीएसपी अमरसिंह चम्पावत डीएसपी सुमेरपुर, थाना अधिकारी भगाराम मीणा को शीघ्र आरोपीयों की गिरप्तारी के निर्देश  देने के बाद पुलिस ने घटना स्थल  से तीनों शवों को कब्जे में लेकर राजकीय अस्पताल तखतगढ मोर्चरी में रखवाया था।

थाना अधिकारी भगाराम मीणा ने बताया मंगलवार रात्री पिचावा  गांव के निकट चामुण्डा माता मंदिर में लूट के इरादे से आए अज्ञात बदमाशों  ने मंदिरों में  सो रहे पुजारी सहित चार लोगो पर लाठियों  से हमला बोल पिचावा निवासी पुजारी बालूराम देवासी 70, रसोया कपुराराम प्रजापत 40 व दलाराम चैधरी की नृशंग हत्या एवं हिम्मतराम भील 60 को गंभीर घायल कर कमरे में डाल मंदिर में मूर्ति को खंडित कर देवी देवताओं के  पहने सोने चांदी के जेवरात ले भागे थे।  पुलिस ने देर शाम तीनों मृतकों के शवों को  कब्जे में लेकर राजकीय अस्पताल तखतगढ की मोर्चरी में रखवाया गया था। जिनका गुरुवार को पोस्टमार्टम के बाद  शव परिजनों को सुपुर्द किए गए।

हालात बिगडने की संभावना को  लेकर जाप्ता तैनात
  - गुरुवार को राजकीय अस्पताल में पीएम कार्यवाही को लेकर पहुंचे थाना अधिकारी भगाराम मीणा व मृतकों के परिजनों के साथ मृतको की आईडी प्रुफ को लेकर खिंचातान होने लगी दरम्यान पिचावा चामुण्डा मंदिर ट्रस्ट एवं जय गुरुदेव मित्र मण्डल के अध्यक्ष इन्दाराम चैधरी, उपाध्यक्ष बाबुलाल सुथार, सचिव तगाराम चैधरी  सहित ग्रामीणों ने समझाईस कर मामला शांत किया। दरम्यान हालात  बिगडने की संभावना को देख सुमेरपुर डीएसपी अमरसिंह चम्पावत भी पहुंचे और सुमेरपुर, साण्डेराव के पुलिस जाप्ता सहित आरएसी जवानों  का जाप्ता तैनात कर दिया।

इनकी उपस्थिति में हुआ पोस्टमार्टम
- गुरुवार  दोपहर 12 बजे राजकीय अस्पताल परिसर में उपमुख्य सचेतक मदन राठौड, वृताधिकारी अमरसिंह चम्पावत, थाना अधिकारी भगाराम मीणा, नायब तहसीलदार भू राजस्व निरिक्षक फुलाराम सहित मंदिर कमेटी के सदस्यों व परिजनों की उपस्थिति में मेडिकल बोर्ड का गठन कर तीनों शवों का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द  कर  दिया। जो 30 घण्टों बाद शव उठाएं गए।

हेडकोस्टेबल घायल
- इधर बुधवार  देर शाम पिचावा गांव में घटना स्थल  पहुंचे जोधपुर पुलिस आईजी हवासिंह घुमरीयां द्वारा मंदिर का मौका मुआयना  करते समय आनन-फानन में हेड कोस्टेबल राजेन्द्रसिंह मंदिर के आगे पत्थर की ठोकर से गिरने से एक हाथ फेक्चर हो गया। जिनका सुमेरपुर के अस्पताल में उपचार करवाया गया  हैं।

टीमें की गठित - अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक अताउर्रहमान खान बाली ने बताया कि हत्यारों की गिरप्तारी को लेकर एसपी भार्गव के  निर्देशन में चार अलग-अलग टीमें गठित कर काम कर रही हैं।

Visitor Counter :