लुटे-पिटे एक्टर, घिसी कॉमेडी 'पोस्टर बॉय्स'

   Posted Date : 9/8/2017 8:25:17 PM

फिल्म की कहानी एक गांव में रहने वाले तीन लोगों जागवार चौधरी(सनी देओल), विनय शर्मा(बॉबी देओल) और अर्जुन सिंह(श्रेयष तलपड़े) की है। गलती से इन तीनों की फोटो नसबंदी कराने वाले पोस्टर पर लग जाती है। जिसकी वजह से तीनों की जिंदगी में उथल-पुथल मच जाती है और गांव वाले इनकी मर्दानगी पर शक करने लगते है। बात इतनी बढ़ जाती है कि इस वजह से जागवार की बहन की शादी टूट जाती है। यही नहीं, इसका असर विनय और अर्जुन की लाइफ पर भी पड़ता है। जहां विनय की पत्नी घर छोड़कर चली जाती है तो वहीं अर्जुन की शादी टूट जाती है। ऐसे में तंग आकर ये तीनों सरकार के खिलाफ केस करने का डिसीजन लेते हैं। तीनों की लड़ाई में कई परेशानी और ट्विस्ट एंड टर्न आते हैं। तो क्या ये पोस्टर ब्वॉयज अपनी लड़ाई जीत जाते हैं? या ये नसबंदी पोस्टर इनकी लाइफ खराब कर देता है? ऐसे कई सवालों के जवाब जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

फिल्म का डायरेक्शन अच्छा है। फिल्म में कहीं कहीं वन लाइनर्स हैं जो आपको हंसाते हैं हालांकि कहानी कमजोर है। जिसका कारण 21वी सदी की फिल्म में 18-19वी सदी वाले जोक्स से हंसाने की कोशिश की गई है। जो बातें ट्रेलर में दिखाई गई हैं उसे कहानी के फस्र्ट हाफ में स्थापित करने के लिए काफी लंबा खींचा गया है और ये काफी काल्पनिक लगता है। फिल्म का स्क्रीनप्ले और बेहतर किया जा सकता था।

फिल्म में सनी एक बार फिल्म टिपिकल जट के अवतार में नजर आए हैं। वहीं बॉबी जैसा कि हिन्दी के टीचर बने हैं तो यहां पूरी फिल्म में उन्होंने शुद्ध हिन्दी में बात की है। कहीं-कहीं उनकी बातों पर हंसी भी आती है। वहीं डायरेक्शन के साथ फिल्म में श्रेयष की एक्टिंग भी सहज है। देखा जाए तो तीनों फिल्म के हिसाब से ठीकठाक हंसा पाए हैं।

फिल्म का म्यूजिक पहले ही रिलीज हो चुका है जो कि कोई खास कमाल नहीं दिखा पाया है। वहीं इसका बैकग्राउंड स्कोर भी बकवास है।

अगर आप सनी, बॉबी और श्रेयष के बहुत बड़े फैन हैं तो ही इस फिल्म को देखें। नहीं तो अच्छा होगा कि आप इसका टीवी पर आने का इंतजार करें।

Visitor Counter :