मारोल मिठन के ग्रामीणो ने बजरी राॅयल्टी के खिलाफ जमकर किया प्रदर्शन

   Posted Date : 8/12/2017 7:35:24 PM

रेवदर। बजरी राॅयल्टी पर दरे बढाने कर प्रति एक हजार रूपये कियंे जाने पर कस्बे के समीप मिठन व मारोल गांव के ग्रामीणो ने मारोल सरपंच खेतदान चारण के नेतृत्व में बजरी राॅयल्टी के खिलाफ प्रदर्शन कर विरोध जताया।जानकारी के अनुसार शुनिवार को मारोल व मिठन के ग्रामीणो ने मारोल नदी में बढी बजरी राॅयल्टी की दरो को लेकर मारोल नदी में ग्रामीणो ने विरोध जताया।दर्जनो ग्रामीणो ने बजरी राॅयल्टी के खिलाफ प्रदर्शन करते हूए बजरी राॅयल्टी कि दरे घटाते कि मांग कि है।ग्रामीणो ने बताया कि 165 रूपये से धीरे-धीरे करके बजरी राॅयल्टी को बढाकर प्रति ट्रोली पर हजार किया गया है।जिसको लेकर ग्रामीणो ने बजरी राॅयल्टी के खिलाफ भारी विरोध किया।इस दौरान विरोध प्रदर्शन में हमीरराम चैधरी,पिन्टू मेघवाल,वगताराम कोली,पप्पु कोली,नरपतदान चारण,धनाराम मेघवाल,हदाराम कोली समेत कई ग्रामीण लोग उपस्थित थे।

एसडीएम को सौपेगें ज्ञापन।मारोल सरपंच सहित दर्जनो ग्रामीणो ने विरोध जताते हूए कहा की 16 अगस्त के बाद मीठन एंव मारोल गांव के  कई ग्रामीणो द्वारा बजरी राॅयल्टी पर बढाई कई दरों को घटाकर ग्रामीणो को राहत प्रदान करवाने कि मांग को लेकर  उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौपा जायेगा।ग्रामीणो ने बताया की बजरी राॅयल्टी के दरे बढाने पर लोगो को मकान बनाने में कई समस्या सामने आ रही है।यहा तक बजरी भी हमारी लेकिन उसकी किमत लोगो कि मन मर्जी के हिसाब से लेकर किसानो के साथ खुलेआम लूट कि जा रही है।

Visitor Counter :